Home > 18+ > पुरुष अगर सही से $ex करे तो एक बार में 20 बार स्खलित हो सकती है महिलाएं

पुरुष अगर सही से $ex करे तो एक बार में 20 बार स्खलित हो सकती है महिलाएं

एक पुरुष तभी तक शारीरिक सम्बन्ध बना  पाता है ! जब तक उसके प्राइवेट पार्ट से सीमेन नहीं निकलता ! स्खलित होने के बाद दूसरी बार $ex करने के लिए कुछ लोगो को कुछ मिनट तो कुछ लोगो को कई घंटे लग जाते है ! पर एक रिसर्च में अनुसार ये दावा किया गया है कि विश्व की 70% महिलाओ के साथ $ex तकनीक का प्रयोग करने से वो पहले ही $ex में लगभग 20 बार स्खलित हो सकती है ! जिन महिलाओ के पार्टनर एक $ex में ही उनको कई बार स्खलित कर देते है ! उन महिलाओ की $ex लाइफ बहुत ही अच्छा चलता है !

पुरुष अगर सही से $ex करे तो एक बार में 20 बार स्खलित हो सकती

पहले भी कई रिसर्च में साबित हो चुका है कि कई महिलाये पहले ही $ex के समय कई बार स्खलित हो जाती है ! डॉ डेविड डेलविन और उनकी पत्नी डॉ क्रिस्टीन वेब्लर ने 20-24 साल की 1250 महिलाओ के ऊपर एक रिसर्च किया ! और उनसे स्खलित को लेकर कुछ सवाल भी पूछे गए !

पुरुष अगर सही से $ex करे तो एक बार में 20 बार स्खलित हो सकती

रिसर्च में पता चला है कि –

  • अधिकतर महिलाओ की समस्या स्खलन के सही प्रकार से नहीं होने के बारे में थी ! वो अपने पार्टनर द्वारा सही प्रकार से स-म्भोग का करने के कारण चिंतित थी !
  • कुछ दंपत्ति मानते है कि सिर्फ पे-निस को यो-नी के अन्दर बाहर रगड़ने से ही महिलाये स्खलित हो जाती है ! और पुरुष का सीमेन निकल जाने के साथ ही महिलाओ को चरम आनंद की प्राप्ति हो जाती है ! अगले पेज पर $ex के दौरान हुए इस खुलासे को जानकर आप चौंक जायेगे…
  • यह भी पढ़ें: अपने छात्र के साथ संबंध बनाकर प्रेग्नेंट हुईं ये टीचर, छात्र की उम्र जान कर चौंक जायेंगे आप!
  • डॉक्टर ने परिणाम निकाला कि सभी महिलाओ को बार बार स्खलन नहीं होता ! पर 70% महिलाये ऐसी है जिनको 1 से अधिक बार स्खलन होता है ! इसमें से कुछ ऐसी महिलाये है ! जिनको पहले $ex में ही 20 बार तक स्खलन हो जाता है!इसका निष्कर्ष ये निकला अगर महिला के साथ सही प्रकार की तकनीक से $ex करोगे ! तो महिलाओ को पहले ही $ex में 20 बार तक स्खलित कर सकते हो !
Loading...

Check Also

जानिये सेक्स में पोसिशन्स के क्या है महत्व, हर पोजीशन क्यों होता है खास

जब भी हम सेक्स पोजिशन्स की बात करते हैं तो उसमें मिशनरी पोजिशन को सबसे …

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com