पुणे टेस्टः ऑस्ट्रेलिया ने भारत को 105 पर ही कर दिया ढेर

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच पुणे में खेले जा रहे पहले टेस्ट मैच में टीम इंडिया मुश्किल में है। ऑस्ट्रेलिया के पहली पारी में 260 रनों के जवाब में भारत की पहली पारी शुक्रवार को महज 105 के स्कोर पर सिमट गई। इसके बाद दोबारा बल्लेबाजी करनी उतरी ऑस्ट्रेलिया ने अपनी दूसरी पारी में 4 विकेट गंवाकर 143 रन जोड़ लिए है। कंगारू टीम ने भारत पर अपनी लीड को मजबूत करने हुए उसे 298 रन तक पहुंचा दिया है। दूसरे दिन का खेल खत्म होने तक कप्तान स्टीव स्मिथ (59) मिशेल मार्श (21) के साथ क्रीज पर डटे हुए हैं। ऑस्ट्रेलिया की दूसरी पारी में गिरे 4 विकेटों में से सर्वाधिक 3 विकेट स्पिन गेंदबाज रविचंद्रन अश्विन के खाते में गए, जबकि एक विकेट जयंत यादव को मिला।पुणे टेस्टः ऑस्ट्रेलिया ने भारत को 105 पर ही कर दिया ढेर

ऑस्ट्रेलिया की पेस बैटरी ने दिखाया दम
मैच के दूसरे दिन भारत ने ऑस्ट्रेलिया का 10वां विकेट तो जल्दी ही गिरा दिया और मेहमान टीम को 260 रन पर ऑलआउट कर अपना दबदबा दिखाया कि क्यों वह पिछले 19 टेस्ट से अजेय है। लेकिन 260 रनों के छोटे से स्कोर पर भी ऑस्ट्रेलिया ने धैर्य नहीं खोया और शानदार गेंदबाजी कर टीम इंडिया पर दबाव बनाने की कोशिश की। कंगारू गेंदबाज हेजलवुड ने मुरली विजय (10) के स्कोर पर विकेटकीपर मैथ्यू वेड के हाथों मे कैच करा दिया। इस समय भारत का स्कोर 26 ही था। इससे पहले कि चेतेश्वर पुजारा केएल राहुल के साथ भारत की पारी को संभालते कि 44 स्टार्क ने अपनी गति और तेज उछाल से पुजारा को स्तब्ध कर दिया। पुजारा के पास इस गेंद का कोई जवाब नहीं था और वह मैथ्यू वेड के हाथों कैच होकर वापिस पविलियन लौट गए। दो गेंदों के बाद ही कप्तना विराट कोहली भी स्टार्क की गेंद पर चकमा खा गए और स्लिप पर आउट होकर 0 पर पविलियन लौट गए।

मैदान पर लोकेश राहुल यूं नजर आए निराश
ओवर की दूसरी गेंद पर केएल राहुल ने आगे बढ़कर शॉट मारने का प्रयास किया। गेंद उनके बल्ले के बाहरी किनारे से लगकर हवा में गई और डेविड वॉर्नर ने इसे लपकने में कोई गलती नहीं की।

ओ’ कीफ ने तोड़ी कमर
विराट के बाद अजिंक्य रहाणे (13) और केएल राहुल (64) ने पारी को संभालने की कोशिश की। दोनों ने मिलकर 50 रन ही जोड़े थे। लग रहा था कि दोनों बल्लेबाज टीम को संकट से उबार लेंगे। स्टीव ओ’ कीफ ने राहुल को अपना पहला शिकार बनाया। राहुल के रूप में यह भारत चौथा ही विकेट था, जो 94 के स्कोर पर गिरा था। इसके बाद तो भारतीय पारी में कीफ ने पतझड़ ही लगा दी। इसी ओवर में उन्होंने रहाणे और साहा को भी चलता किया। भारतीय पारी के 33वें ओवर में कीफ ने 3 विकेट अपने नाम किए। इसके बाद कीफ ने 3 विकेट और लिए। 35/6 विकेट लेने वाले कीफ का यह गेंदबाजी में शानदार प्रदर्शन था।

इस बीच कीफ के एक ओवर में 3 विकेट लेने के बाद अगले ही ओवर में नेथन लायन ने अश्विन को आउट कर भारत को बड़ा झटका दिया। गेंद अश्विन के बल्ले से लेकर उनके जूते से टकराई और शॉट लेग पर खड़े हैंड्सकॉम्ब ने आगे कूदकर लाजवाब कैच पकड़ा। यह भारतीय पारी का सातवां विकेट था। स्कोर था 95 रन।

स्कोर में दो रन ही और जुड़े थे जब जयंत यादव को ओ’कीफ ने चलता कर दिया। यादव ने गेंद को स्वीप करने की कोशिश की और इस प्रयास में उनका पैर क्रीज से बाहर निकला और विकेटकीपर मैथ्यू वेड ने गिल्लियां उखाड़ने में देर नहीं की।

10 रन बना यूं पविलियन लौटे मुरली विजय
ओ’ कीफ की कामयाबी का सिलसिला इसके बाद भी जारी रहा। रविंद्र जाडेजा ने बड़ा शॉट खेलकर दबाव कम करने का प्रयास किया पर वह उसमें कामयाब नहीं हो सके। मिशेल स्टार्क ने उनका कैच पकड़कर भारत को नौवां झटका दिया। कीफ ने 105 के स्कोर पर उमेश यादव को आउट कर भारत की पारी को समेट दिया। पहली पारी के आधार पर ऑस्ट्रेलिया को 160 रनों की बढ़त मिली।
भारतीय टीम दुनिया की नंबर एक टेस्ट टीम है और घरेलू मैदान पर पिछली छह सीरीज में उसे किसी में हार का सामना नहीं करना पड़ा है।
 
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button