" /> पीड़ित परिवार की महिलाएं अपना दर्द बयां करते हुए भावुक हुईं प्रियंका गांधी > Ujjawal Prabhat | उज्जवल प्रभात

पीड़ित परिवार की महिलाएं अपना दर्द बयां करते हुए भावुक हुईं प्रियंका गांधी

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी के धरने के बाद आखिरकार शनिवार सोनभद्र नरसंहार के पीड़ित परिजन मिर्जापुर के चुनार गेस्ट हाउस में प्रियंका गांधी से मिलने पहुंचे लेकिन प्रशासन ने सिर्फ दो लोगों को ही प्रियंका से मिलने की इजाजत दी.

Loading...

सोनभद्र नरसंहार के पीड़ित परिजन प्रियंका गांधी से मिलने चुनार गेस्ट हाउस पहुंचे तो प्रियंका गांधी भावुक हो गईं. पीड़ित परिवार की महिलाएं अपना दर्द बयां करते हुए रोने लगीं तो भावुक प्रियंका ने पीड़ितों के आंसू पोंछते हुए गले से लगा लिया. प्रियंका गांधी ने उनकी हिम्मत बढ़ाई और इंसाफ दिलाने का वादा किया.

प्रियंका गांधी ने प्रशासन के रवैये के प्रति नाराजगी जाहिर की और चुनार गेस्ट हाउस में दोबारा धरने पर बैठ गई हैं. दरअसल, सोनभद्र से पीड़ित परिवार के 15 सदस्य प्रिंयका गांधी से मिलने मिर्जापुर आए थे, जिनमें से सिर्फ दो को ही मिलने दिया गया और बाकी लोगों को गेस्ट हाउस के बाहर ही रोक दिया गया. प्रियंका गांधी सभी पीड़ितों से मिलना चाहती हैं.

प्रियंका गांधी ने कहा कि जिनसे मिलने के लिए मैं आई थी, अब उन्हें मुझसे मिलने आना पड़ा फिर भी प्रशासन ने मुझसे मिलने नहीं दिया. प्रियंका ने सवाल उठाते हुए कहा, आखिर महिला पीड़ित परिजनों से मिलने पर प्रशासन को क्या आपत्ति है.

बता दें कि कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी सोनभद्र में 10 लोगों की हत्या के बाद वहां धारा 144 लागू होने के बाद भी पीड़ितों से मिलने की जिद पर अड़ी रहीं. प्रियंका गांधी ने प्रशासन से कहा कि अगर सोनभद्र में धारा 144 लागू है तो वो पीड़ित परिवारों से मिर्जापुर या वाराणसी में भी मिल सकती हैं. जिसके बाद सोनभद्र नरसंहार के पीड़ित परिजनों को प्रियंका गांधी से मिलाने के लिए चुनार गेस्ट हाउस लाया गया.

गौरतलब है कि प्रियंका गांधी को शुक्रवार को प्रशासन ने सोनभद्र जाने से रोका था. फिलहाल प्रियंका गांधी को चुनार गेस्ट हाउस में हिरासत में रखा गया है. जहां बॉन्ड भरने पर प्रियंका गांधी को छोड़ा जाएगा.

Loading...
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *