पीएफ का पैसा ट्रांसफर करना हुआ आसान, ऐसे चेक करें अपना बैलेंस

पीएफ का पैसा ट्रांसफर करना हुआ आसान, ऐसे चेक करें अपना बैलेंसनई दिल्ली। कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (ईपीएफओ) ने ऐसे कर्मचारियों के लिए नियमों में ढील दी है जो नौकरी बदलने के बाद अपनी भविष्य निधि जमा को स्थानांतरित करवाना चाहते है। सेवानिवृत्ति कोष इकाई ईपीएफओ ने एक नया घोषणा पत्र (नया फॉर्म संख्या 11) जारी किया है जो मौजूदा घोषणा पत्र की जगह लेगा। इस नए फॉर्म में व्यक्ति द्वारा उसके पूर्व कार्यालय के संबंध में घोषणा पत्र होगा, जैसे कि केवाईसी इत्यादि। यह तब करना होगा जब आप अपनी नौकरी बदल रहे होंगे।

नई कंपनी ज्वाइन करते वक्त नहीं भरना होगा फॉर्म 13:

नई कंपनी ज्वाइन करते वक्त अब फॉर्म 13 नहीं भरना होगा। इसके अलावा ईपीएफओ ने अपने सदस्यों के लिए कई अन्य ऑलाइन सुविधाएं शुरू की हैं। इसके लिए ईपीएफओ ने दो लाख से अधिक ‘कॉमन सर्विस सेंटर्स’ (CSCs) से पैक्ट किया है। जल्द ही इन सर्विस सेंटर्स को ईपीएफओ और दूर संचार मंत्रालय के साथ लिंक कर दिया जाएगा।

इस प्रक्रिया के पूरा हो जाने के बाद 7.84 करोड़ यूएएन सब्सक्राइबर्स ऑनलाइन अपने ईपीएफओ अकाउंट से कई सुविधाओं का लाभ उठा सकेंगे। ईपीएफओ ने आधार का यूएएन के साथ लिंकिंग, पेंशन धाराकों के जीवित होने संबंधित प्रमाण पत्र, केवाईसी अपलोड एंड अपडेट फैसिलिटी, यूएएन कार्ड संबंधित ऑनलाइन क्लेम सेवा को ‘कॉमन सर्विस सेंटर्स’ के जरिए एक्सेस करने का का फैसला लिया है।

साल 2015 में कर्मचारी भविष्य निधि योजना संगठन (ईपीएफओ) ने एकाउंट होल्डर्स की सुविधा के लिए तीन ऐसी सुविधाएं लॉन्च की थी जिनके जरिए कर्मचारी अपना ईपीएफ बैलेंस चेक कर सकता है।

EPF मोबाइल ऐप:

यह ऐप एंड्रॉयड और iOS दोनों पर उपलब्ध है। इस ऐप को डाउनलोड करने के बाद आपको मेंबर, नियोक्ता और पेंशनर में से किसी एक ऑप्शन को चुनना होगा। अगर आप कर्मचारी हैं तो आपको मेंबर पर टैप करना होगा। इसके बाद अपना यूएएन नंबर और अपना रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर डालकर अपना बैलेंस चेक कर लें। एक बात पर जरूर ध्यान दें कि इस ऐप को डाउनलोड करने से पहले अपना यूएएन (UAN ) एक्टिवेट कर लें। ईपीएफओ अपने सभी कर्मचारियों को यूएएन नंबर देता है, इसे आप अपने नियोक्ता से ले सकते हैं।

आपको बता दें कि अगर आप मौजूदा समय में कहीं भी काम नहीं कर रहे हैं लेकिन आपके पास ऑपरेटिव EPF एकाउंट है तो आप ईपीएफओ की वेबसाइट पर (Know your UAN status) पर क्लिक करके यूएएन जनरेट कर सकते हैं। इनऑपरेटिव अकाउंट (इस्तेमाल में न लाए जाने वाले) वे होते हैं जिनमें तीन साल से कोई राशि जमा नहीं की गई होती।

UAN के जरिए:

UAN लेने के बाद इसे एक्टिवेट करें। इसे आप सीधे वेबसाइट से भी एक्टिवेट कर सकते हैं। ऐप पर, यूएएन एक्टिव के ऑप्शन पर टैप करें और इसके बाद ऐप आपसे रीजनल पीएफ ऑफिस, पीएफ नंबर और UAN जैसी चीजें पूछी जाएंगी। आपके रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर वन टाइम पासवर्ड (ओटीपी) भेजा जाएगा और एकाउंट को एक्टिव करने के लिए आपको इस ओटीपी का इस्तेमाल करना होगा।

ईपीएफओ से मेंबर पासबुक और एसएमएस सर्विस जैसी सुविधाएं प्राप्त करने के लिए मेंबर को अपना UAN एक्टिवेट करना पड़ेगा। आप जिस भी मोबाइल नंबर पर एसएमएस सर्विस लेना करना चाहते हैं उसी की जानकारी दें। इस एक्टिवेशन की मदद से ईपीएफओ आपका मोबाइल नंबर रजिस्टर कर लेता है ताकि आपसे सीधे संपर्क कर सकें। मोबाइल ऐप को लॉन्च करने के पीछे मेंबर्स का UAN एक्टिवेट करना था।

एक्टिवेट करने के बाद आप अपना एकाउंट बैलेंस एप के जरिये चेक कर सकते हैं। कर्मचारी और नियोक्ता बेसिक सैलेरी का 12-12 फीसदी हिस्सा ईपीएफ एकाउंट में जमा करते है।

मिस्ड कॉल और एसएमएस सर्विस:

आप 011-22901406 नंबर पर मिस्ड कॉल देकर अपने बैलेंस की जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। मिस्ड कॉल देते ही आपके रजिस्टर्ड नंबर पर ईपीएफओ की तरफ से एक एसएमएस आएगा इसमें आपका यूएएन, नाम और जन्म तिथि और आखिरी योगदान दिया होगा। लेकिन इससे आपको अपना बैंलेस नहीं पता लगेगा। इसके लिए आपको अपना UAN KYC डॉक्यूमेंट्स बैंक एकाउंट डीटेल्स, PAN या फिर आधार के जरिए सीड करना पड़ेगा। फिलहाल ऑथोरिटी नियोक्ता की ओर से यह काम कर देता है।

एक बार आपका UAN KYC से सीड हो जाएगा तो जब भी आप मिस्ड कॉल देंगे, ईपीएफओ आपको आपके सबसे आखिरी ईपीएफ बैलेंस की जानकारी दे देगा।

अगर आपका UAN एक्टिवेट नहीं हुआ है तो आप 77382-99899 पर एसएमएस कर सकते हैं। टाइप करें EPFOHO स्पेस देकर ACT या UAN, आपका 22 अंकों का पीएफ नंबर। एक्टिवेट होने के बाद इसी नंबर पर आप एसएमएस भेजकर अपना एकाउंट बैलेंस चेक कर सकते हैं। अगर आप जानकारी अंग्रेजी में चाहते हैं तो EPFOHO स्पेस UAN स्पेस ENG टाइप करें। आप इस एसएमएस को 10 भारतीय भाषाओं में प्राप्त कर सकते हैं। इन सर्विसेज के तहत ईपीएफओ ईपीएफ एकाउंट्स को ज्यादा यूजर फ्रैंडली बनाने की कोशिश कर रहे है।

Back to top button