पानीपत में पंजाब एंड सिंध बैंक में हैरान कर देने वाली करोड़ों की चोरी का हुआ पर्दाफाश…

पानीपत में पंजाब एंड सिंध बैंक में हैरान कर देने वाली चोरी का पर्दाफाश हुआ है। चोरों ने रविवार की छुट्टी का फायदा उठाते हुए छत का लैंटर तोड़ा और बैंक में प्रवेश किया। इसके बाद लॉकर तोड़कर चोरी को अंजाम दिया। बदमाशों ने 180 में से उन्हीं लॉकर को निशाना बनाया जिनमें जेवर व नकदी ज्यादा रखी थी।

Loading...

पानीपत के सनौली रोड स्थित गुरुद्वारा संत भाई नरैण सिंह के भवन में गुरुनानक पब्लिक स्कूल है। इसी स्कूल के नीचे पंजाब एंड सिंध बैंक है। दो दिन की छुट्टी के बाद सोमवार सुबह करीब 9:15 बजे सफाईकर्मी गुरुनानक पब्लिक स्कूल की पहली मंजिल पर कमरा नंबर 6 में गईं। दरवाजा खोला तो पास में दो बाई दो फीट का लेंटर कटा था। टाटपट्टी लटकी हुई थी।  इसके बाद क्लास इंचार्ज शिक्षिका ने स्कूल व गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी को सूचित किया। मौके पर एसपी सुमित कुमार, पचंकूला स्थित पंबाज एंड सिंध बैंक मुख्यालय के सीनियर मैनेजर प्रदीप, पानीपत के ब्रांच मैनेजर सोमबीर और लॉकर मालिक पहुंचे। बदमाश मौके पर ड्रिल मशीन, रॉड, हथौड़ी, रस्सी व अन्य सामान छोड़ गए। बदमाशों ने बैंक के स्ट्रांग रूम से लेकर अलमारियों को भी तोडऩे का प्रयास किया, लेकिन सफल नहीं हो पाए। लाखों रुपये इन लॉकरों में रखे थे।

जेवर व नकदी चोरी होने की सूचना मिलते ही लॉकर मालिक कई महिलाएं रोते हुए बेहोश हो गईं। हार्ड डिस्क नहीं होने से बदमाशों की तस्वीर सीसीटीवी कैमरे में कैद नहीं हो पाई।

बैंक की छत तोड़ी
चोर पाइप के सहारे स्‍कूल के कमरे की खिड़की तक पहुंचे। खिड़की काटकर बैंक के ऊपर बने कमरे में दाखिल हुए। ये कमरा लॉकर रूम के ठीक ऊपर वाला था। इसके बाद उन्होंने कटर से छत को काटा। इसके बाद क्लास में रखे टाट पट्टी के सहारे नीचे उतरे। यहां से चोर लॉकर रूम में पहुंचे। 

छह लॉकर तोड़े
चोर लॉकर रूम में पहुंचने के बाद लॉकर को तोडऩा शुरू किया। करीब छह लॉकर तोड़कर उन्होंने चोरी की वारदात को अंजाम दिया। पुलिस ने बताया कि चोरी किस समय हुई, इसका पता अभी तक नहीं चल पाया है। हालांकि रविवार को छुट्टी थी। छत को काटने में भी काफी समय लगा होगा। ऐसे में चोरों ने रविवार को ही वारदात को अंजाम दिया है। वहीं बैंक अधिकारी भी मौके पर पहुंचे। पता लगाया जा रहा है कि लॉकर किसका था और उसमें क्या था।

रेहड़ी वाले से लेकर उद्यमी तक हुए शिकार 
बदमाशों का शिकार रेहड़ी वाले से लेकर उद्यमी तक हो गए। पानीपत गैस एजेंसी के मालिक सेक्टर-24 निवासी रमन पुहाल के लॉकर नंबर 21 से करीब 157 तोले सोने के जेवर चोरी कर लिये। चोर आनन-फानन में दो कड़े लॉकर में छोड़ गए। भाजपा के पूर्व पार्षद और देवेंद्रा होटल के मालिक सेक्टर-25 निवासी तरुण छोक्करा के लॉकर नंबर 82 से 90 तोले सोने के जेवर व 8 लाख रुपये, हैंडलूम व्यवसायी वार्ड-7 के अजय लखीना के लॉकर नंबर 37 से 70 तोले सोने के जेवर व 50 हजार, चश्मों की रेहड़ी लगाने वाले सेक्टर 11 के तेजेंद्र सिंह और उनकी मां जसवंत कौर के लॉकर नंबर 7 से 12 तोले के जेवर चुरा लिये। सेक्टर 11 के उद्यमी जोगेंद्र के लॉकर नंबर छह और प्रशांत छाबड़ा के लॉकर नंबर 22 से भी जेवर चोरी हुए हैं, लेकिन इन्होंने इस बारे में पुलिस को नहीं बताया है।

बैंक की सुरक्षा में खामी थी। स्ट्रांग रूम भी नियमानुसार नहीं बना था। किला थाने में अज्ञात के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है। बदमाशों को पकडऩे के लिए पांच टीमें लगी हैं। चार से पांच बदमाश होने की संभावना है। जल्द ही गिरफ्तार कर लिये जाएंगे।

Loading...
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com