हाफिज सईद की कई संपत्तियों पर पाक सरकार का कब्जा

मुंबई हमलों के मास्टरमाइंड हाफिज सईद पर पाकिस्तान में कार्रवाई जारी है. पाकिस्तान में हाफिज सईद के संगठन जमात-उद-दावा को प्रतिबंधित आतंकी संगठन घोषित करने के बाद अब इसकी संपत्‍तियों को जब्‍त किया जा रहा है.

पाकिस्तान ने हाफिज सईद के जमात-उद-दावा और फलाह-ए-इन्सानियत फाउंडेशन के एक अस्तबल (हॉर्स-ब्रीडिंग सेंटर), दर्जनों ट्रकों, एक स्वीमिंग एकेडमी, मार्शल आर्ट्स स्कूलों और इन जगहों पर काम करने वाले हजारों कर्मचारियों को अपने नियंत्रण में ले लिया है. हाफिज के लिए हजारों स्वयंसेवी भी काम करते हैं.

पाकिस्तानी अधिकारियों ने कहा है कि अभी उन्होंने हाफिज सईद के संगठनों के नेटवर्क को चलाने की योजना नहीं बनाई है. समाचार एजेंसी रॉयटर्स के मुताबिक पाकिस्तान में हाफिज सईद के कम से कम 300 स्कूल, अस्पताल, एक छापाखाना और एंबुलेंस सर्विस चलती है.

इससे पहले, पाकिस्तान में हाफिज सईद के संगठनों को मिलने वाले दान पर भी पूरी तरह से रोक लगा दी गई थी. पिछले हफ्ते पंजाब सरकार ने आदेश पर रावलपिंडी जिला प्रशासन ने हाफिज सईद के संगठन जमात-उद-दावा (JUD) और फलाह-ए-इन्सानियत फाउंडेशन (FIF) के एक मदरसे और चार दवाखानों को अपने नियंत्रण में ले लिया था. मदरसे का जिम्मा औकाफ़ विभाग को सौंपा गया था जो मजहबी संपत्तियों पर नियंत्रण रखता है.

सऊदी किंग से अरुण जेटली की हुई शाही मुलाकात

इस बारे में पंजाब सरकार ने बीते शुक्रवार को ही आदेश जारी कर दिए थे. इसके अलावा, सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद जमात-अद-दावा के मुख्यालय के बाहर से बैरीकेडिंग भी हटा ली गई थी.

 

आपको बता दें कि नवंबर में नजरबंदी से रिहा होने के बाद हाफिज सईद ने मिल्ली मुस्लिम लीग नाम से नया राजनीतिक दल बनाने की घोषणा की है. अब वह पाकिस्तान की राजनीति में आने की तैयारी कर रहा है.

You may also like

चीन का कर्ज बढ़कर 2,580 अरब डॉलर हुआ

चीन का बढ़ता कर्ज अब 2,580 अरब डॉलर