पंडितों के साथ हो गया छल, दक्षिणा की जगह मिला ‘धोखा’

जुबिली न्यूज़ डेस्क
लखनऊ। धार्मिक मान्यता के अनुसार मान्यता ये है कि ब्राह्मण अपने कर्म से विश्व को सुख शांति देते हैं। मगर उत्तर प्रदेश के बस्ती व अयोध्या में पंडित जी की पूरी टीम को पूजा- पाठ करवाने के बाद यजमान ने ही धोखा देकर उन्हें झटका दे दिया।
बता दें कि सीतापुर स्थित आश्रम संचालिका गीता पाठक नाम की महिला ने लक्ष्मी प्राप्ति के लिए पंडितों को बुलाकर अनुष्ठान कराया था, जिसमें बस्ती और अयोध्या के लगभग 50 ब्राह्मणों की पूरी टीम कथा कहने गई थी। जहां पंडितों की पूरी टीम ने मिलकर 14 दिनों तक अनुष्ठान करवाया।
ये भी पढ़े: कारखानों में महिलाओं को नाईट शिफ्ट में काम की अनुमति नहीं
ये भी पढ़े: सुप्रीम कोर्ट से नहीं मिली मोहर्रम के जुलूस की इजाजत

हद तब हो गई जब नोट के रूप में मिली दक्षिणा के नाम पर उन्हें जाली नोट थमा दिये गए। दक्षिणा में मिले 8.5 लाख रुपये में से 5.5 लाख रुपये जाली नोट पाए गए हैं। इन जाली नोटों में से 100, 200, 500 और 2000 के बहुत नोट जाली मिले हैं। पुलिस ने प्रारंभिक जांच शुरु कर दी है।
ये भी पढ़े: आखिर क्यों गिरानी पड़ी बाहुबली विधायक के बेटों की इमारत
ये भी पढ़े: कौन है सैयद जफर इस्लाम? जिसको BJP ने दिया सम्मान

क्षेत्राधिकारी रविशंकर प्रसाद के मुताबिक गीता पाठक नाम की महिला ने लक्ष्मी वृद्धि के लिए बाहर से पंडितों को बुलाकर अनुष्ठान कराया था। इसके बाद में जब पंडितों को पैसा देने की बारी आई तो भारतीय मनोरंजन बैंक लिखे हुए नकली नोट एक पोटली में बांधकर उन लोगों को देकर फरार हो गई है। जिसके खिलाफ संबंधित धाराओं में मुकदमा पंजीकृत किया जा रहा है और इसकी गहराई से जांच की जाएगी।
ये भी पढ़े: आखिर क्यों गिरानी पड़ी बाहुबली विधायक के बेटों की इमारत
ये भी पढ़े: कोरोना : मोटे लोगों पर कम असरदार हो सकती है वैक्सीन

Ujjawal Prabhat Android App Download Link
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button