नोटबंदी में रेलवे अफसरों से मिलकर खपाए 32 लाख के नोट, CBI ने दर्ज किया केस

नोटबंदी के दौरान रेलवे अधिकारियों के साथ मिलकर 32 लाख 10 हजार रुपये के पुराने नोट खपाने के मामले में सीबीआई ने उत्तर मध्य रेलवे मंडल इलाहाबाद के दो अधिकारियों व कुछ अज्ञात लोगों के खिलाफ लखनऊ में मामला दर्ज किया है।
नोटबंदी में रेलवे अफसरों से मिलकर खपाए 32 लाख के नोट, CBI ने दर्ज किया केस
सीबीआई को शिकायत मिली थी कि उत्तर मध्य रेलवे में सफाई का ठेका लेने वाली कंपनी  विशाखा फैसिलिटीज मैनेजमेंट प्राइवेट लिमिटेड ने गारंटी की रकम नोटबंदी के दौरान रेलवे के खाते में जाम की।

ये भी पढ़े: अभी अभी: झूठ बोल रहे विपक्षी दल, सीएम योगी ने खुद बताई बच्चों के मौत की असली वजह

दरअसल आठ नवंबर को 1000 व पांच सौ के पुराने नोट बंद करने की घोषणा के बाद आरबीआई ने रेलवे काउंटर पर इनका चलन जारी रखा था। इसी का फायदा उठाकर कंपनी ने उत्तर मध्य रेलवे के सहायक मंडल वित्त प्रबंधक एम.एच. अंसारी और मंडल कैशियर मदन मोहन यादव के साथ मिलकर गारंटी का पांच प्रतिशत यानी 32 लाख 10 हजार 817 रुपये कैश रेलवे के खातों में जमा कर दिया।

Best news portal designing company in lucknow

इसमें 1000 के 549 नोट और पांच सौ के 5323 नोट थे। सीबीआई ने इसे सरकारी पद के दुरुपयोग का मामला मानते हुए एंटी करप्शन ब्रांच में आईपीसी की धारा 120बी, 420 के साथ भ्रष्टाचार अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया है।

 
loading...
=>

You may also like

तलवार दम्पति की रिहाई पर लगी CBI कोर्ट की मुहर, जारी किया….

आरुषि-हेमराज मर्डर केस में करीब चार साल जेल