नीदरलैण्ड ग्लोबल कान्फ्रेन्स में प्रतिभाग कर लौटे सीएमएस प्रतिनिधि मंडल का भव्य स्वागत

- in उत्तरप्रदेश, लखनऊ

लखनऊ : सिटी मोन्टेसरी स्कूल के क्वालिटी अश्योरेन्स एवं इनोवेशन डिपार्टमेन्ट की हेड एवं सीनियर प्रिन्सिपल सुश्री सुस्मिता बासु एवं सी.एम.एस. के वर्ल्ड यूनिटी एजूकेशन डिपार्टमेन्ट के हेड अनिरुद्ध सिंह का नीदरलैण्ड में आयोजित सी.आई.एस.वी. ग्लोबल कान्फ्रेन्स में प्रतिभाग कर स्वदेश लौटने पर सी.एम.एस. कार्यकर्ताओं ने अमौसी एअरपोर्ट पर भव्य स्वागत किया। इस अवसर पर सी.एम.एस. संस्थापक व प्रख्यात शिक्षाविद् डा. जगदीश गाँधी उपस्थित थे। सी.एम.एस. के मुख्य जन-सम्पर्क अधिकारी हरि ओम शर्मा ने बताया कि यह अन्तर्राष्ट्रीय सम्मेलन 14 से 19 अगस्त तक नीदरलैण्ड के वेल्डहोवेन शहर में आयोजित किया गया, जिसमें विश्व के कई देशों के शिक्षाविद्ों ने प्रतिभाग किया। यह यह सम्मेलन ‘न्यू होरिजन्स रिफलेक्टिंग सी.आई.एस.वी. एम्बीशन फॉर इन्क्रीज्ड रीच एण्ड इम्पैक्ट’ थीम पर आयोजित किया गया, जिसका उद्देश्य विभिन्न देशों में आयोजित होने वाले चिल्ड्रेन्स इण्टरनेशनल समर विलेज कैम्प (सी.आई.एस.वी.) की गतिविधियों को सुदृढ़ करना एवं इसके माध्यम से विभिन्न देशों के छात्रों के बीच साँस्कृतिक एवं अन्तर्राष्ट्रीय समझ विकसित करना है।

श्री शर्मा ने बताया कि सी.आई.एस.वी. ग्लोबल कान्फ्रेन्स के अन्तर्गत विभिन्न देशों के सी.आई.एस.वी. प्रतिनिधियों के बीच विचारों के आदान-प्रदान, अन्तर्राष्ट्रीय सहयोग एवं सामन्जस्य आदि विषयों पर सारगर्भित चर्चा-परिचर्चा हुई। सम्मेलन की परिचर्चा के निष्कर्ष सी.आई.एस.वी. कैम्प के प्रतिभागी बच्चों के लिए बहुत उपयोगी साबित होंगे, जो एक साथ एक छत के नीचे एक माह के सी.आई.एस.वी. कैम्प में साथ-साथ रहकर एकता, शान्ति व सौहार्द के गुण सीखते हैं। श्री शर्मा ने बताया कि सी.एम.एस. विगत 25 वर्षों से चिल्ड्रेन्स इण्टरनेशनल समर विलेज कैम्प की मेजबानी प्रतिवर्ष लखनऊ में कर रहा है, साथ ही सी.एम.एस. के कई छात्र दल विश्व के अन्य देशों में आयोजित सी.आई.एस.वी. कैम्प में प्रतिभाग करते हैं। श्री शर्मा ने विश्वास व्यक्त किया कि विश्वव्यापी स्तर पर शिक्षा तथा संस्कृति के क्षेत्रों में यह सम्मेलन प्रतिभागी देशों के बीच अनुभव तथा ज्ञान के आदान-प्रदान के रचनात्मक रिश्ते बनाने का एक नया अध्याय जोड़ेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

बिहार बोर्ड के फर्जी अंकपत्र बनाने वाले गिरोह का हुआ भंडाफोड़

एसटीएफ ने बिहार संस्कृत बोर्ड और वेस्ट बंगाल