नवजोत सिद्धू ने कहा, केजरीवाल ने खुद ही कर दी पंजाब में आप की हत्‍या

- in पंजाब, राज्य

चंडीगढ़। पंजाब के स्‍थानीय निकाय मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू ने भी दिल्‍ली के मुख्‍यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर हमला किया है। उन्‍होंने केजरीवाल द्वारा शिरोमणि अकाली दल (शिअद) नेता और पूर्व मंत्री बिक्रम मजीठिया से माफी मांगने पर सवाल किए हैं। उन्होंने कहा कि केजरीवाल ने पंजाब में आम आदमी पार्टी को खत्‍म कर दिया है।

सिद्धू ने पूरे प्रकरण पर ट्वीट कर अपनी प्रतिक्रिया‍ दी। उन्‍हाेंने पत्रकारों से बातचीत में भी केजरीवाल पर निशाना सधा।। सिद्धू ने कहा, ‘ अरविंद केजरीवाल ने पंजाब की जनता को नीचा दिखाया है। मुझे लगाता है कि केजरीवाल ने पंजाब में अाम अादमी पार्टी की हत्‍या कर दी है। यह (केजरीवाल का माफी मांगना) ऐसा है जैसे उसका (आप) का अस्तित्‍व मिटा दिया गया हो। अब वे (आप नेता) किस मुंह से नशे की बात करेंगे।’

उन्‍होंने बाद में पत्रकारों से बातचीत में कहा कि केजरीवाल की असलियत सभी के सामने आ गई है, लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि बिक्रम सिंह मजीठिया को क्‍लीनचिट मिल गई है। सिद्धू ने कहा, एसटीएफ ने साफ कहा है कि बिक्रम सिंह मजीठिया की ड्रग तस्‍करी मेें भूमिका के पर्याप्‍त सुबूत मिले हैं अौर इसकी जांच की जरूरत है। ऐसे में पंजाब सरकार तथ्‍यों की अनदेखी नहीं कर सकती है।

बता दें कि भाजपा छोड़ने के बाद नवजोत सिंह सिद्धू के आम आदमी पार्टी में शामिल होने की चर्चाएं खूब गर्म हुई थी। उनकी अरविंद केजरीवाल के साथ मुलाकात भी हुई थी, लेकिन बाद में यह सिरे नहीं चढ़ सका औरर सिद्धू कांग्रेस में शामिल हो गए। बताया गया कि मामला पंजाब विधानसभा चुनाव में खुद को मुख्‍यमंत्री पद का उम्‍मीदवार घोषित करने की मांग कर रहे थे।

कांग्रेस में शामिल हाेने के बाद सिद्धू ने केजरीवाल पर खूब हमले किए और कहा कि केजरीवाल खुद पंजाब की मुख्‍यमंत्री बनना चाहते थे। इसी कारण बात नहीं बनी। बाद में केजरीवाल ने भी इसका जवाब दिया अौर कहा कि सिद्धू को डिप्‍टी सीएम बनाने का आॅफर दिया था, लेकिन वह सीएम कंडीडेट से कम पर मानने को तैयार नहीं थे। इसके बाद भी दोनों नेताओं में वार और पलटवार चलता रहा।

दूसरी ओर, पंजाब कांग्रेस के प्रधान सुनील जाखड़ ने कहा है कि राज्‍य के लोगों को गुमराह करने और उनको धोखा देने के लिए दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को उनसे माफी मांगनी चाहिए। बिक्रम मजीठिया से माफी मांगने की जगह केजरीवाल को पंजाब के लोगों से माफी मांगनी चाहिए। केजरीवाल पंजाब की जनता से लगातार झूठ बोलते आ रहे हैं।

जाखड़ ने कहा कि केजरीवाल द्वारा मजीठिया से माफी मांगने के साथ यह जाहिर हो गया है कि अकालियों विरोधी वोट बैंक को बांटने के लिए आम आदमी पार्टी और शिरोमणि अकाली दल के बीच गुप्त समझौता हुआ था। इन पार्टियाें ने एक-दूसरे की आलोचना करने का असली मकसद केवल अकाली सरकार विरोधी वोट बैंक को बांट कर अकालियों को फ़ायदा पहुंचाना था।

उन्होंने कहा कि केजरीवाल द्वारा मजीठिया से माफी मांगने साथ बिल्ली थैले से बाहर आ चुकी है और अब इस धोखे के लिए केजरीवाल और उनकी पार्टी को पंजाब के लोगों को जवाब देना पड़ेगा। उन्होंने कहा कि पंजाब के लोग कभी भी आम आदमी पार्टी और केजरीवाल को माफ नहीं करेंगे।

जाखड़ कहा कि आम आदमी पार्टी के पंजाब नेताओं द्वारा यह कहना कि केजरीवाल ने माफी मांगने से पहले उनसे चर्चा नहीं की, बेहद हास्यापद करार दिया। जाखड़ ने पंजाब विधान सभा के बीते सत्र के दौरान आप और शिअद द्वारा कांग्रेस विरुद्ध दिखाई गई एकजुटता की ओर इशारा किया। जाखड़ ने कहा कि दिखावा करने के बावजूद आम आदमी पार्टी के ज़्यादातर नेता अकालियों की नीतियोँ और कार्य का हिस्सा हैं।

You may also like

उत्तर प्रदेश सरकार चीनी मिलों को दिलवाएगी 4,000 करोड़ रुपये का सस्ता कर्ज

उत्तर प्रदेश सरकार ने राज्य की चीनी मिलों