नदी के कारण 4 माह कैद रहते हैं लोग, बीमार को ऐसे ले जाना पड़ता है हॉस्पिटल

  • पटना. बिहार के गया जिले के बेलागंज प्रखंड के तुरी गांव के लोग चार माह तक बाढ़ के कारण कैद रहते हैं। इस दौरान कोई बीमार पड़ जाए तो बड़ी परेशानी हो जाती है। गांव के कई लोगों को जुटाया जाता है। इसके बाद रोगी को खाट पर रखकर उसे कंधे पर लादकर नदी पार ले जाया जाता है। गांव के पास बहने वाली चार नदियों पर कोई पुल नहीं है, जिसके चलते कई बार नदी की तेज धारा पार करना कठिन होता है।गांव के पास बहती है चार नदी…
    नदी के कारण 4 माह कैद रहते हैं लोग, बीमार को ऐसे ले जाना पड़ता है हॉस्पिटल
     
    – गया जिले का तुरी गांव चारों ओर से नदी से घिरा है। चार नदियां इस गांव के पास से बहती हैं।
    – आजादी के बाद से इस गांव में न सड़क बनी और न पुल। गांव के लोगों को हमेशा नदी पार करके जाना पड़ता है। 

    ये भी पढ़े: गोरखपुर अस्पताल का यह वीडियो वायरल होते ही खुल गई योगी सरकार की पोल, मच गया हडकंप!

    – बारिश के दिनों में ये नदियां उफान पर रहती हैं, जिसके कारण गांव के लोगों का बाहर निकलना मुश्किल हो जाता है।
    – जो लोग गांव से निकलते भी हैं वे जान जोखिम में डालकर जाते हैं। 
    – गांव की कई प्रेग्नेंट महिलाओं की बरसात के मौसम में इलाज के अभाव में मौत हो चुकी है।

    – बच्चे पूरे साल नदी पार कर स्कूल जाते हैं। बरसात में स्कूल जाना बच्चों के लिए अधिक खतरनाक हो जाता है।
     
     
     

Facebook Comments

You may also like

जयपुर: डाक विभाग के भर्ती एग्जाम में एक साथ पकड़े गए 94 ‘मुन्ना भाई’

राजस्थान की राजधानी जयपुर में पुलिस ने डाक