धूमधाम से मना लालू प्रसाद का 71वां जन्‍मदिन, CM नीतीश ने भी दी बधाई

- in बिहार

राजद प्रमुख लालू प्रसाद के 71वें जन्मदिन पर राजद नेताओं व समर्थकों का उनके पटना आवास पर तांता लगा हुआ है। पार्टी कार्यकर्ताओं ने उनके लिए 71 पाउंड का केक बनवाया। उन्‍हें बधाई देते संदेशों के बैनर-पोस्‍टर से पटना की सड़कें पट गईं हैं। उन्‍हें बधाई देने वालों में मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार भी शामिल हैं।धूमधाम से मना लालू प्रसाद का 71वां जन्‍मदिन, CM नीतीश ने भी दी बधाई

राजद सुप्रीमो के 71वें जन्‍मदिन पर आज उनके 10 सर्कुलर रोड स्थित आवास पर पार्टी नेताओं व समर्थकाें का तांता लगा हुआ है। उनसे मिलने दूर-दूर से आ रहे हैं। इस दौरान लोग लालू के दीर्घ एवं स्वस्थ जीवन की कामना कर रहे हैं।

आज लालू को बधाई देने के लिए उनके आवास पर महागठबंधन के बड़े नेता भी पहुंचे। जीतन राम मांझी, शिवानंद तिवारी, रामचंद्र पूर्वे समेत कई नेताओं ने राबड़ी देवी के आवास पर जाकर शुभकामनाएं दीं। इस बीच मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार ने भी उन्‍हें ट्वीट कर बधाई दी है। नीतीश कुमार उनके जल्द स्वस्थ होने के लिए शुभकामनाएं दी हैं। 

71 पाउंड का केक काटा
इस अवसर पर पार्टी की ओर से लालू प्रसाद की उम्र के बराबर 71 पाउंड का केक तैयार किया गया। इसे नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव एवं विधायक तेज प्रताप यादव ने मां राबड़ी देवी के साथ केक काटा। समारोह में लालू प्रसाद मौजूद नहीं थे। इस बाबत तेजस्‍वी यादव ने कहा कि लालू प्रसाद अस्‍वस्‍थ हैं, इसलिए वे नहीं आ सके। समारोह का आयोजन तेजस्वी यादव के आवास पांच देशरत्न मार्ग में किया गया।

रविवार को रक्तदान शिविर का आयोजन
लालू के जन्मदिन के एक दिन पहले रविवार को राजद कार्यालय में दोपहर 12 बजे रक्तदान शिविर का आयोजन किया गया। इस दौरान राजद के प्रदेश अध्यक्ष रामचंद्र पूर्वे एवं प्रदेश प्रधान महासचिव आलोक मेहता मौजूद रहे।

फिलहाल जमानत पर हैं लालू
विदित हो कि लालू प्रसाद यादव का जन्म 11 जून 1948 को हुआ था। छात्र जीवन में वे जयप्रकाश नारायण के संपूर्ण क्रांति आंदोलन से जुड़े। 1977 में आपातकाल के बाद हुए लोकसभा चुनाव में वे जनता पार्टी के टिकट पर छपरा से सांसद बने। वे 1980 में पहली बार बिधायक बने। लंबे समय तक बिहार में मुख्‍यमंत्री व किंग मेकर की भूमिका में रहे लालू इन दिनों चौतरफा मुसीबतो से घिरे हैं। चारा घोटाला के कई मामलों में सजा पाने के बाद इन दिनों वे इलाज के लिए जमानत पर हैं।

Patanjali Advertisement Campaign

सम्बंधित समाचार

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

मुजफ्फरपुर शेल्टर होम केस का मुख्य आरोपी ब्रजेश ने कहा- जेल में मेरी जान को है खतरा

मुजफ्फरपुर। बिहार के मुजफ्फरपुर शेल्टर होम में 34 लड़कियों