द्रविड़, गवास्कर जैसे दिग्गजों को पीछे छोड़ लोकेश राहुल ने बनाया ये विश्व रिकॉर्ड

- in खेल

भारत और श्रीलंका के बीच तीन टेस्ट मैचों की रॉयलस्टैग टेस्ट श्रृंखला का अंतिम मुकाबला आज शनिवार, 12 अगस्त से शुरू हो चुका हैं. भारत और श्रीलंका के बीच यह आखिरी टेस्ट मैच कैंडी, पल्लेकेले के मैदान पर खेला जा रहा हैं. जहाँ मैच की शुरुआत टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली के टॉस जीतने के साथ हुई.  

लाजवाब रही शुरुआत 

अंतिम टेस्ट मैच की शुरुआत टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली के टॉस जीतने के साथ हुई और विराट कोहली ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाज़ी करना बेहतर समझा. टॉस जीतना और पहले बल्लेबाज़ी करने मेहमान टीम इंडिया के लिए एकदम लाजावाब रहा. टीम के सलामी बल्लेबाज़ शिखर धवन और लोकेश राहुल ने टीम को एक ठोस और लाजवाब शुरुआत दिलाई.

के एल राहुल बने रिकॉर्डधारी

कोलंबो टेस्ट मैच से टीम इंडिया में वापसी करने वाले लोकेश राहुल ने एक नाम पल्लेकेले टेस्ट मैच में एक बड़ा और ऐतिहासिक रिकॉर्ड अपने नाम पर दर्ज कर लिया. दरअसल श्रीलंका के खिलाफ अंतिम टेस्ट मैच में लोकेश राहुल ने एक शानदार पारी खेली और एक बार अपनी टीम के लिए 50+ का बेहतरीन स्कोर बनाया.

इसी के साथ लोकेश राहुल के नाम टेस्ट क्रिकेट के इतिहास का बड़ा विश्व कीर्तिमान दर्ज हो गया. दरअसल भारतीय टीम के लिए टेस्ट क्रिकेट में लोकेश राहुल लगातार सात बार 50 या उससे ज्यादा का स्कोर बनाने वाले पहले बल्लेबाज़ बने.

छोड़ा दिग्गजों को पीछे 

इस रिकॉर्ड बनाने के साथ ही के एल राहुल ने एक नहीं, बल्कि दो दो भारतीय दिग्गजों के विश्व रिकॉर्ड को तोड़ दिया. इससे पहले टीम इंडिया के लिए टेस्ट क्रिकेट में लगातार 50 और उससे ज्यादा का स्कोर बनाने का रिकॉर्ड गुंडाप्पा विश्वनाथ और राहुल द्रविड़ {6} के नाम पर दर्ज था. आप सभी की जानकारी के लिए बता दे, कि इस मैच में लोकेश राहुल शानदार 85 रन बनाकर आउट हुए.

आइये डालते हैं, एक नज़र टीम इंडिया के लिए टेस्ट क्रिकेट में लगातार 50+ स्कोर बनाने वाले खिलाड़ियों पर:-

लोकेश राहुल – 7*

गुंडाप्पा विश्वनाथ – 6

राहुल द्रविड़ – 6

सुनील गावस्कर – 5

दिलीप वेंगसरकर – 5

loading...
=>

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

माइकल क्लार्क बोले- विराट के अंदर हमेशा दिखाई देता है ऑस्ट्रेलियाई जज्बा

ऑस्ट्रेलिया के पूर्व वर्ल्ड चैंपियन कप्तान माइकल क्लार्क