दो महीने के बच्चे को गोद में लेकर इस महिला ने दिया एंट्रेंस एग्जाम

- in करियर

इंसान के अंदर कुछ कर गुजरने का जज्बा हो तो दुनिया की कोई ताकत उसे नहीं रोक सकती. एक ऐसी ही महिला की तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है जिसने अपने दो महीने के बच्चे को गोद में लेकर परीक्षा दी.

कौन हैं ये महिला

इस महिला का नाम जहां ताब है और 25 साल की है. यहां वह निली सिटी के Nasirkhosraw Higher Education Institute में सोशल साइंस कोर्स के लिए एंट्रेंस परीक्षा देने पहूंची थी. जिसके बाद उनकी ये तस्वीरें लगातार सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है.

ये हैं दुनिया की बेस्ट टीचर, मिला 6.5 करोड़ का इनाम

बता दें, ताब जिस कॉलेज में एडमिशन के लिए एंट्रेंस परीक्षा दे रही थी, उसे ‘कांकोर परीक्षा’ कहते हैं. जब ताब परीक्षा दे रही थी उस दौरान उनका दो महीने का बच्चा रोने लगा, जिसके बाद वह नीचे जमीन पर बैठ गईं और बच्चे को गोद में लेकर चुप कराने के साथ-साथ परीक्षा देने लगी.

वहीं परीक्षा की निगरानी के लिए तैनात किए गए लेक्चरर याह्या इरफान ने जब ताब को बच्चे को गोद में लेते हुए परीक्षा लिखते हुए देखा तो उन्होंने अपने मोबाइल से उनकी तस्वीरें खींच ली और उसे सोशल मीडिया पर शेयर कर दिया.

किसान से हुई शादी

CNN की रिपोर्ट के अनुसार ताब की शादी एक किसान के साथ हुई है. वह काफी गरीब परिवार से हैं. उनके तीन बच्चे हैं. गरीबी परिस्थिति होने के बावजूद उन्होेंने पढ़ाई को बीच में नहीं छोड़ा. जितनी जिम्मेदारी से उन्होंने परीक्षा दी उतनी ही शिद्दत से मां का फर्ज निभाया. बता दें, उन्होंने 152 अंकों के साथ परीक्षा पास कर ली है.

10वीं के छात्र ने पैर से लिखकर दी बोर्ड परीक्षा, तस्वीरें वायरल

अब वह कॉलेज में एडमिशन लेने के लिए बेताब है. लेकिन घर की आर्थिक स्थिति इतनी अच्छी नहीं है कि वह कॉलेज की फीस भर सके. इसलिए ताब की मदद के लिए एक ‘ब्रिटिश संस्था अफगान यूथ एसोसिएशन’ ने GoFundMe नाम से एक कैंपेन शुरू किया है, ताकि इसकी फीस का इंतजाम किया जा सके. बता दें, ताब की ये तस्वीरें लगातार ट्विटर और फेसबुक पर वायरल हो रही है. जिसके लिए लोग उनके इस प्रयास की प्रशंसा कर रहे हैं.

You may also like

लोअर पीसीएस-2015 के चयनितों को चार माह बाद भी नियुक्ति का इंतजार – राघवेन्द्र प्रताप सिंह

लखनऊ। एक ओर जहाँ सूबे की योगी आदित्यनाथ