देश के मुकाबले तीन गुना ज्यादा कमाते हैं दिल्लीवाले, जानिए दूसरे नंबर पर है कौन सा राज्य

- in दिल्ली, राज्य
देशभर में कमाने के मामले में दिल्ली नंबर-वन बन गई है। उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने सोमवार को राज्य सकल घरेलू उत्पाद 2016-17 के पूर्वानुमान की रिपोर्ट जारी की जिसमें चालू मूल्य पर दिल्ली की प्रतिव्यक्ति आय 10.76 फीसदी वार्षिक वृद्धिदर के साथ 3,03,073 रहने का संभावना जताई गई है।
देश के मुकाबले तीन गुना ज्यादा कमाते हैं दिल्लीवाले, जानिए दूसरे नंबर पर है कौन सा राज्य
ये प्रतिव्यक्ति आय राष्ट्रीय प्रतिव्यक्ति आय 1,03818 से करीब तीन गुना है। रिपोर्ट के अनुसार गोवा के वित्त वर्ष 2016-17 का प्रतिव्यक्ति पूर्वानुमान नहीं आया है लेकिन वित्त वर्ष 2015-16 में ये प्रतिव्यक्ति आय 270150 रुपये है। ये दिल्ली के उसी वर्ष के प्रतिव्यक्ति आय से 3468 रुपये कम है।

ये भी पढ़े: जिस हादसे ने ले ली 3 युवा लड़के-लड़कियों की जान, ये हैं उससे जुड़े चार अनसुलझे पहलू

दिल्ली की प्रतिव्यक्ति आय 2015-16 में 9.89 फीसदी वार्षिक वृद्धिदर के साथ 2,73,618 रुपये रही है। रिपोर्ट के अनुसार 2011-12 से 2016-17 केबीच वर्तमान मूल्य पर प्रतिव्यक्ति आय में वार्षिक दर 10.34 फीसदी रहने का अनुमान है। राष्ट्रीय स्तर पर 2015-16 में 94178 रुपये और 2016-17 में 10818 रुपये क्रमश: 8.9 फीसदी और 10.2 फीसदी वार्षिक वृद्धि दर के साथ रहने का पूर्वानुमान है।
 
रिपोर्ट के अनुसार स्थित मूल्य पर दिल्ली की प्रतिव्यक्ति आय 2015-15 और 2016-17 में क्रमश: 6.55 फीसदी और 6.06 फीसदी वार्षिक वृद्धि के साथ 2,26,583 रुपये और 2,40,318 रुपये रहने का अनुमान है।

गोवा की स्थित मूल्य पर वित्त वर्ष 2015-16 में प्रतिव्यक्ति आय 2,23,142 रुपये रही है जो दिल्ली से 3441 रुपये कम है। स्थित मूल्य पर राष्ट्रीय प्रतिव्यक्ति आय 2015-18 में 77524 रुपये और 82112 रुपये रहने का अनुमान 6.6 फीसदी और 5.9 फीसदी वार्षिक वृद्धिदर के साथ रहने की संभावना जताई गई है।

दिल्ली का जीएसडीपी 12.61 फीसदी की वार्षिक वृद्धिदर का अनुमान

राज्य सकल घरेलू उत्पाद(जीएसडीपी) 2016-17 की पूर्वानुमान रिपोर्ट के अनुसार वर्तमान मूल्य पर 2011-12 से दिल्ली का जीएसडीपी 343767 करोड़ रुपये से बढ़कर 2015-16 में 551963 करोड़ और 2016-17 में 622385 करोड़ औसत 12.61 फीसदी की वार्षिक वृद्धिदर के हिसाब से पहुंच गया है।

जहां राष्ट्रीय स्तर पर यह वृद्धिदर क्रमश: 10 फीसदी और 11.5 फीसदी रही है, वहीं दिल्ली के जीएसडीपी की वृद्धिदर 12.09 फीसदी और 12.76 फीसदी रही है। स्थित मूल्य पर जीएसडीपी में 7.71 फीसदी वार्षिक वृद्धिदर के साथ 2016-17 में 498217 करोड़ पहुंचने का अनुमान जारी किया गया है।

रिपोर्ट केअनुसार दिल्ली की अर्थव्यवस्था में 2015-16 में 8.82 फीसदी और 2016-17 में 8.26 फीसदी वार्षिक वृद्धिदर से आगे बढ़ेगी। यह राष्ट्रीय स्तर पर क्रमश 7.9 फीसदी और 7.1 फीसदी की दर से बढ़ेगा। 

=>
=>
loading...

You may also like

राजधानी लखनऊ समेत पूरे उत्तर प्रदेश में मनाया गया विश्व मधुमक्खी दिवस

लखनऊ : राजधानी के आलमबाग क्षेत्र स्थित राजकीय उद्यान