दूध उत्पादकों के आर्थिक समृद्धि का आधार बनेगी देश की दूसरी किसान स्पेशल ट्रेन

बेगूसराय। देश की दूसरी किसान स्पेशल ट्रेन का नियमित परिचालन बेगूसराय से शुरू हो गया है। यह किसान स्पेशल ट्रेन बेगूसराय के बरौनी डेयरी से एक-एक दिन के अंतराल पर राष्ट्रीय डेरी विकास बोर्ड द्वारा विकसित चार टैंकर में चालीस-चालीस हजार लीटर दूध लेकर तीव्र गति से पड़ोसी राज्य झारखंड के टाटानगर तक जाती है।

बरौनी डेयरी के प्रबंध निदेशक सुनील रंजन मिश्र ने बताया कि यहां का दूध पड़ोसी राज्य झारखंड भेजने के लिए चलाई गई किसान स्पेशल ट्रेन बरौनी डेयरी सहित बिहार का दुख दूर करने वाला और प्रगति का सूचक साबित होगा। इसमें से एक टैंकर दूध रांची एवं हटिया, एक टैंकर दूध बोकारो तथा दो टैंकर दूध टाटानगर जा रहा है। सोमवार को तीसरी रैंक लेकर यह किसान स्पेशल रवाना हुई। इसके परिचालन से जहां एक तरफ सड़क से परिवहन में लगने वाले समय में बचत हो रही है। वहीं उच्च गुणवत्ता का अधिक से अधिक दूध पड़ोसी राज्य में बिक्री करने से संघ और इससे जुड़े 1202 गांव के एक लाख 75 हजार से अधिक किसानों को आर्थिक रूप से फायदा होगा।

सुनील रंजन मिश्र ने बताया कि सोनपुर रेल मंडल द्वारा असम के गुवाहाटी के लिए जल्द रेलवे के माध्यम से दूध टैंकर का परिचालन शुरू हो जाएगा। इससे बिहार का दूध असम तक के घरों में अपनी पहुंच बनाएगा। लॉकडाउन दूध के उत्पादन में कोई कमी नहीं आई लेकिन इसकी बिक्री में 50 प्रतिशत से अधिक की कमी आ गई। पशुपालक किसानों की इस पीड़ा को दूर करने और किसानों को आत्मनिर्भर बनाने के लिए किसान स्पेशल ट्रेन चलाई गई है। इससे किसानों में आशा जगी है।

Ujjawal Prabhat Android App Download Link
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button