दुल्हन की पड़ोसी ने खोली ऐसी सच्चाई की दुल्हे को लगा सदमा और फिर…

युगांडा में एक इमाम सदमे में है। दरअसल, उसे निकाह के दो हफ्ते के बाद पता चला कि उसकी नवविवाहित पत्नी वास्तव में एक आदमी है। मोहम्मद मुतुम्बा और उनकी “दुल्हन” ने दो सप्ताह पहले एक पारंपरिक निकाह समारोह में शादी के अनुबंध पर हस्ताक्षर किए थे। इमाम ने कहा कि वे शादी के बाद नहीं मिले क्योंकि दुल्हन ने कहा था कि उसके पीरियड्स चल रहे हैं।

Loading...

इमाम ने कहा कि मैं भी बीमार था और उसके ठीक होने का इंतजार कर रहा था। उन्हें सबसे बड़ा इससे तब लगा जब अपनी दुल्हन के आदमी होने के बारे में उन्हें पड़ोसी ने बताया। उनके पड़ोसियों ने आरोप लगाया कि उनकी “पत्नी” एक दीवार फांद गई थी, ताकि टेलीविजन सेट और कपड़े सहित उनके सामान चुरा सके। इसके बाद पड़ोसियों ने आशंका जाहिर की थी कि इमाम की पत्नी एक मर्द है।

पड़ोसियों ने पुलिस स्टेशन में चोरी की शिकायत दर्ज कराई, जिसके बाद इमाम और ‘इस्लामी कपड़े पहने’ उनकी ‘पत्नी’ पुलिस स्टेशन पहुंची। उसे सलाखों के पीछे डालने से पहले, एक महिला पुलिस अधिकारी ने संदिग्ध की तलाशी ली और जांच की, तो इस सनसनीखेज मामले का खुलासा हुआ।

यह भी पढ़ें: इन शरणार्थी को बसाने के लिए मोदी सरकार देगी 600 करोड़? जानिए कौन है ये लोग…

कयुंगा जिला आपराधिक जांच अधिकारी इसहाक मुगेरा ने कहा कि सामान्य तौर पर एक महिला पुलिस अधिकारी सलाखों के पीछे संदिग्ध को डालने के पहले उसकी अच्छी तरह से तलाशी लेती है। मगर, अधिकारी उस वक्त सदमे में आ गए, जब उन्होंने देखा कि संदिग्ध ने ब्रा में कपड़े फंसा रखे थे। उसने ऐसा इसलिए किया, ताकि वह महिलाओं की तरह दिख सके। इस दौरान पुलिस ने यह भी पाया कि संदिग्ध व्यक्ति के पुरुष गुप्तांग थे। आगे पूछताछ करने पर संदिग्ध ने स्वीकार किया कि उसने इमाम के पैसे के लिए उसे धोखा दिया।

इमाम ने कहा कि संदिग्ध से उसकी मुलाकात मस्जिद में हुई थी। उन्होंने कहा कि मैं शादी के लिए एक महिला की तलाश कर रहा था और जब मैंने हिजाब पहने हुए एक खूबसूरत लड़की को देखा, तो उससे अपने प्यार का इजहार किया और उसने स्वीकार कर लिया। उसने मुझसे कहा कि हम तब तक संबंध नहीं बना सकते हैं, जब तक कि इमाम उसके माता-पिता को मेहर की रकम नहीं दे देते। संदिग्ध को भेष बदलकर धोखा देने और चोरी करने का आरोप लगाया गया है।

Loading...
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *