दिल का रोग है या नहीं????? ‘दी हार्ट एप’ बताएगा आपको

heart-2एजेंसी/नई दिल्ली| मैक्स हार्ट इंस्टीट्यूट के वरिष्ठ हृदय रोग विशेषज्ञ डॉक्टर राजीव राठी ने एक ऐसा दी हार्ट एप बनाया है जिससे लोग घर बैठे अपने फोन पर पता लगा सकते हैं कि उन्हें हृदय की बीमारी के लक्षण तो नहीं। विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) की रिपोर्ट के अनुसार 2020 तक एक तिहाई मौत हृदय रोग के कारण होगी। अगर लक्षणों की पहचान कर सही समय पर इस बीमारी का इलाज शुरू कर दिया जाए तो अधिकतर मरीजों की जान बचाई जा सकती है।

दी हार्ट एप गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड करें

ऐसा देखा गया है कि अक्सर मरीज हृदयघात के लक्षणों को समझ नहीं पाते। जब वे डॉक्टर के पास पहुंचते हैं तब तक बहुत देर हो चुकी होती है। यह तक कि हृदय कि मांसपेशियां हमेशा के लिए मृत हो जाती हैं।गूगल प्ले स्टोर से ‘दी हार्ट एप’ को डाउनलोड कर बड़ी आसानी से हृदय रोग के लक्षणों को पहचाना जा सकता है। यह एप मुफ्त में उपलब्ध है। दी हार्ट एप निर्माता डॉक्टर राठी कहते हैं “मुझे उम्मीद है कि अधिक से अधिक लोग इस मुफ्त सेवा का उपयोग करेंगे और अपने परिवार व मित्रों को भी इसके लिए प्रेरित करेंगे, ताकि देश में हृदय की बीमारियों से होने वाली मृत्यु दर को कम किया जा सके।”

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button