दिल्ली में जारी हुआ हाई अलर्ट: VIP लुटियन्स जोन में हवाई हमले का खतरा! 

- in दिल्ली

राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री सहित कई ताकतवर मंत्रियों, ताकतवर राजनीतिज्ञों, वरिष्ठ अफसरों, सैन्य अधिकारियों और जजों के निवास वाले दिल्ली के वीआईपी लुटियन्स जोन पर हवाई हमले का खतरा है. इसे लेकर खुफिया इनपुट मिलने के बाद हाई अलर्ट जारी किया गया है.सुरक्षा बलों को वीवीआईपी इलाके में हवाई हमले की तैयारी की पुख्ता सूचना मिली है. इससे सुरक्षा एजेंसियों के माथे पर शिकन बढ़ गई है. उच्च पदस्थ सूत्रों ने इस खबर की पुष्टि की है.

खुफिया अलर्ट की बात स्वीकार करते हुए ऐसे ही एक सूत्र ने कहा, ‘समाज विरोधी और आतंकी तत्व इन संवैधानिक प्रमुखों, वीवीआईपी, वरिष्ठ सरकारी अधिकारियों और अन्य गणमान्य व्यक्तियों की सुरक्षा के लिए खतरा पैदा कर सकते हैं.’  

उन्होंने कहा, ‘ये तत्व पैराग्लाइड, पैरासेल, पैरा-मोटर, अनमैन्ड एरियल व्हीकल्स (जैसे ड्रोन, रिमोट से चलाए जाने वाले विमान), एयरो मॉडल, माइक्रो लाइट एयरक्राफ्ट हैंग ग्लाइडर या हॉट एयर बैलून.’

89 VIP की सुरक्षा के लिए खास इंतजाम

गौरतलब है कि जुलाई महीने में गृह मंत्रालय (MHA) ने सुरक्षा एजेंसियों से कहा था कि किसी संभावित हवाई या रासायनिक हमले की स्थ‍िति में दिल्ली के लुटियन्स जोन में रहने वाले 89 वीआईपी की सुरक्षा और उन्हें वहां से सुरक्षित निकालने के लिए एक स्टैंडर्ड ऑपरेटिंग प्रॉसिजर (SOP) बनाए, जिसे कि ‘VIP-89′ एरिया नाम दिया गया.’

VIP-89 एक ऐसा निर्धारित सर्किल है जिसमें प्रधानमंत्री कार्यालय, राष्ट्रपति भवन जैसे सभी महत्वपूर्ण आवास और दफ्तर हैं. गृह मंत्रालय के निर्देश के बाद दिल्ली पुलिस द्वारा त्वरित कार्रवाई की जा रही है. किसी भी ऐसे हमले से बचने के लिए दिल्ली पुलिस ने ड्रोन, पैराग्लाइड जैसी उक्त उड़ने वाली चीजों पर रोक लगा दी है.’

सुरक्षा एजेंसियों के सूत्रों का दावा है कि ऐसे इनपुट मिले हैं कि लश्कर-ए-तैयबा जैसे कई आतंकी संगठन राजधानी दिल्ली में वीआईपी लोगों पर हमले के लिए अपने बाहरी ऑपरेशन में लगे संगठनों को पुनगर्ठित कर रहे हैं.

पुलिस ने नई दिल्ली जिले में किसी भी मकान मालिक को बिना पुलिस वेरिफिकेशन के किसी भी किरायेदार को न रखने के सख्त निर्देश दिए हैं. 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

दिल्ली में भारी वाहनों के प्रवेश पर लगाम लगाने की तैयारी में सरकार, दुर्घटनाएं होंगी कम

दिल्ली में आधीरात के बाद होने वाले 70