दिल्ली पुलिस को धोखे में रखकर मरकज ने मांगे थे वाहन पास

नई दिल्ली। सोमवार को उस वक्त देश में दहशत फैल गयी जब दिल्ली के निजामुद्दीन में आयोजित तबलीगी जमात में देश विदेश से आये हजारों लोगों के मस्जिद में छिपे होने की सूचना आयी। लॉक डाउन के बावजूद यहां पर लोग छिपे थे और देश में जहां जहां गये वहां संक्रमित पाये गये। जब यहां से शामिल होकर तेलंगाना गये कुछ लोगों की मौत हुई तब इस मामले का खुलासा हुआ था। अब दिल्ली प्रशासन के साथ देश के सभी राज्यों में जमात से शामिल होकर गये लोगों की तलाश की जा रही है। वहीं मरकज द्वारा दिल्ली पुलिस को लिखी चिट्ठी वायरल होने के बाद दिल्ली पुलिस पर भी सवालिया निशान खड़े हो रहे हैं।
दिल्ली प्रशासन द्वारा कल जमात के कुछ लोगों को बसों से अस्पताल ले जाया गया जहां कुछ कोरोना पॉजिटिव पाए गये और फिर इससे देशभर में दहशत मच गयी। इसी बीच एक खत सामने आया है, जो कि मरकज के द्वारा दिल्ली पुलिस को लिखा गया था। इसमें मरकज ने कुछ गाड़ियों के लिए पास मांगा था, ताकि लॉकडाउन और पाबंदियों के बीच फंसे लोगों को वहां से निकाला जा सके।
मरकज़ ने अपने बचाव में दलील दी है कि जिसदिन लॉक डाउन का निर्देश हुआ तब जो लोग मरकज में बच गए थे, उन्हें निकालने के लिए वाहनों का इंतजाम किया गया था। इन वाहनों की लिस्ट दिल्ली पुलिस को दी गई थी, ताकि वाहन पास मिल पाएं। ये चिट्ठी मरकज की ओर से 25 मार्च को लिखी गई थी। लेकिन दिल्ली पुलिस द्वारा कोई जवाब नहीं मिला।

Ujjawal Prabhat Android App Download Link
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button