दिल्ली उपचुनाव में हार के बाद भी क्यों खुश हो रही है कांग्रेस? जाने क्या है माजरा…

दिल्ली की राजौरी गार्डन सीट पर हुए उपचुनाव में भारतीय जनता पार्टी और शिरोमणि अकाली दल के संयुक्त उम्मीदवार मनजिंदर सिंह सिरसा ने जीत दर्ज की है. तो वहीं आम आदमी पार्टी के उम्मीदवार की जमानत भी जब्त हो गई है. मनजिंदर सिंह सिरसा ने कांग्रेस की उम्मीदवार मीनाक्षी चंदेला को 14,652 वोटों से जीत दर्ज की. तो वहीं कांग्रेस पार्टी दूसरे नंबर पर रही.

अभी अभी: पीएम मोदी को इन पार्टियों ने दी खुली चुनौती, कहा- एक महीने में पलट के रख देंगे पूरा…

दिल्ली उपचुनाव में हार के बाद भी क्यों खुश हो रही है कांग्रेस? जाने क्या है माजरा...

कांग्रेस की वापसी?

15 साल दिल्ली की सत्ता पर राज करने वाली कांग्रेस पार्टी को 2013 और 2015 के विधानसभा चुनावों में करारी हार का सामना पड़ा था. 2013 में कांग्रेस को मात्र 8 सीटें मिली थी, तो वहीं 2015 में कांग्रेस खाता भी नहीं खोल पाई थी. लेकिन इस चुनाव में कांग्रेस को जीत तो नसीब नहीं हुई है, लेकिन फिर भी उसने पहले से अच्छा प्रदर्शन किया है. कांग्रेस नेता पीसी चाको ने भी कहा कि उनका वोट प्रतिशत इस चुनाव में काफी बड़ा है.

एमसीडी में मिलेगा फायदा

तीनों पार्टियां 23 अप्रैल को होने वाले एमसीडी चुनाव की तैयारियां करेंगी. कांग्रेस पार्टी के लिए उपचुनाव में दूसरे नंबर पर आना एक संजीवनी की तरह काम करेगा. अगर कांग्रेस एमसीडी में अच्छा प्रदर्शन करने में भी कामयाब रहती है, तो उसके लिए एक अच्छा संकेत है.

आप को कड़ी टक्कर

आम आदमी पार्टी पहली बार निगम चुनावों में हिस्सा लेगी. सत्ता में आने के बाद लगातार आलोचनाओं का सामना झेल रही आप के लिए यह चुनाव आसान नहीं होगा. तो वहीं कांग्रेस की मुकाबले में वापसी उसके लिए चिंता का विषय है.

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button