दिलेर सिख युवक, पगड़ी से 6 युवकों को डूबने से बचाया

सिbrave-sikh-boy-560b73b60c165_exlstख युवकों की दिलेरी को सलाम कीजिए। बहादुरी दिखाते हुए गणेश विसर्जन करने आए 6 युवकों को पगड़ी की सहायता से बचाया। तस्वीरों में पूरा मामला।

 

घटना पंजाब के संगरूर जिला की है। सुनाम गांव के पास सुलर घाट पर गणेश विर्सजन के समय संतुलन बिगड़ने से 6 युवक नहर में गिर गए। दो युवकों ने पगड़ी के सहारे उन्हें डूबने से बचा लिया।

 

हुआ यूं कि पानी का बहाव तेज था। विसर्जन के लिए उतरे युवक मस्ती में थे। अचानक उनका पांव फिसल गया और वे नहर में गिर गए। उन्हें देखकर लोगों ने शोर मचाना शुरू कर दिया।

 

युवकों को डूबते देखकर इंदरपाल सिंह नाम के युवक ने अपनी शर्ट के जरिए एक युवक को किनारे पर खींच लिया। दूसरे लोग अन्य युवकों को रस्सी के सहारे बचाने लगे, लेकिन रस्सी बीच में ही टूट गई।

 

इंदरपाल ने आनन फानन में अपनी पगड़ी उतारी और तीन और लड़कों को बचा लिया। तभी नहर के दूसरे किनारे से युवकों के चिल्लाने की आवाज आई। यह देख दूसरे युवक कंवलजीत ने अपनी पगड़ी उतार कर उनकी तरफ फेंक दी और वे बाहर आ गए।

 

इस तरह दोनों युवकों ने दिलेरी दिखाते हुए 6 जिंदगियों को खत्म होने से बचा लिया। इस घटना की देश भर चर्चा हो रही है। इसका वीडियो भी बनाया गया, जो सोशल मीडिया पर वायरल है। दोनों बहादुर युवक संगरूर के ही रहने वाले हैं। बचाए गए युवकों की पहचान इंद्रपाल सिंह, जीवन सिंह, कमलप्रीत सिंह और इंद्र तिवारी के रूप में हुई है।

 

इन्दरपाल सिंह ने बताया कि ‘जिस रस्सी के जरिये लड़कों को बचने की कोशिश हो रही थी वह बीच से टूट गई। मैंने जल्दी से अपनी पगड़ी उतारी और उनकी तरफ फेंकी। तीन लड़कों को किनारे खींच लिया।’
कंवलजीत सिंह कहते हैं कि ‘पहले मैंने सोचा नहर में छलांग लगाकर लड़कों को बचाऊं, लेकिन मुझे तैरना नहीं आता है इसलिए मैंने भी अपनी पगड़ी के जरिये लड़कों को किनारे की तरफ खींचा।’

 

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button