तो पेमेंट के लिए किया जाना है WhatsApp का उपयोग !

जुबली न्यूज़ डेस्क
कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने शनिवार को एक विदेशी मैगजीन के लेख का हवाला देते हुए बीजेपी और फेसबुक के स्वामित्व वाले चैटिंग ऐप व्हाट्सऐप को लेकर तीखा हमला बोला है।
राहुल गांधी ने भारतीय जनता पार्टी पर आरोप लगाते हुए कहा कि उसका व्हाट्सएप पर नियंत्रण है। उन्होंने कहा कि इस प्लेटफॉर्म को भारत में भुगतान सेवा शुरू करने के लिए केन्द्र की मोदी सरकार से मंजूरी की आवश्यकता है।

America’s Time magazine exposes WhatsApp-BJP nexus:
Used by 40 Cr Indians, WhatsApp also wants to be used for making payments for which Modi Govt’s approval is needed.
Thus, BJP has a hold over WhatsApp.https://t.co/ahkBD2o1WI
— Rahul Gandhi (@RahulGandhi) August 29, 2020

यह भी पढ़ें : तेज प्रताप यादव के खिलाफ झारखंड सरकार दर्ज करायेगी मुकदमा
राहुल गांधी ने मीडिया रिपोर्ट का हवाला देते हुए ट्वीट कर कहा, “अमेरिका की टाइम मैग्जीन ने व्हाट्सएप-बीजेपी सांठगांठ का खुलासा किया है। 40 करोड़ भारतीयों द्वारा इस्तेमाल किया जाया जाने वाला व्हाट्एप से भुगतान सेवा शुरू करने के लिए मोदी सरकार की मंजूरी चाहता है। इसलिए, बीजेपी का व्हाट्सएप पर होल्ड है।”
बता दें कि व्हाट्सएप सोशल मीडिया का स्वामित्व फेसबुक इंक के पास है।
राहुल गांधी पहले भी गंभीर आरोप लगा चुके हैं
इससे पहले भी राहुल गांधी ने आरोप लगाते हुए कहा था कि बीजेपी और राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ का देश में फेसबुक और व्हाट्सएप पर कब्जा है।
राहुल गांधी ने वॉल स्ट्रीट जर्नल की एक खबर को शेयर करते हुए मोदी सरकार और फेसबुक पर गंभीर आरोप लगाए थे। अमेरिकी अखबार द वॉल स्‍ट्रीट जर्नल ने अपनी रिपोर्ट फेसबुक की निष्‍पक्षता पर सवाल उठाए गए थे।
यह भी पढ़ें : कैंसर से जंग हार गया ब्लैक पैंथर ‘चैडविक बॉसमैन’
वॉल स्‍ट्रीट जर्नल ने अपनी रिपोर्ट में दावा किया था कि फेसबुक ने बीजेपी नेताओं के ‘हेट स्‍पीच’ वाली पोस्‍ट्स के खिलाफ ऐक्‍शन लेने में ‘जान-बूझकर’ कोताही बरती। यह उस विस्‍तृत योजना का हिस्‍सा था जिसके तहत फेसबुक ने बीजेपी और कट्टरपंथी हिंदुओं को ‘फेवर’ किया।
फेसबुक की निष्पक्षता को लेकर भारत में उठ रहे सवाल और इसको लेकर जारी राजनीतिक बवाल के बीच सोशल मीडिया की दिग्गज कंपनी फेसबुक ने इस पर अपनी सफाई दी थी फेसबुक ने कहा था कि यह खुला, पारदर्शी और गैर-पक्षपातूर्ण मंच है।
यह भी पढ़ें : चुनाव प्रक्रिया में क्या बदलाव करने जा रही है मोदी सरकार ?

Ujjawal Prabhat Android App Download Link
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button