तेजी के बाद अचानक शेयर बाजार का हुआ ये हाल, गंवा दी…

वैश्विक सकारात्मक संकेतों की वजह से हफ्ते के पहले कारोबारी दिन शेयर बाजार जबरदस्त तेजी के साथ खुला था, लेकिन दोपहर के बाद शेयर बाजार ने यह बढ़त गंवा दी. कारोबार की शुरुआत में बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज का सेंसेक्स 613 अंकों की तेजी के साथ 38,9109 पर खुला. लेकिन कारोबार के अंत में यह 153 अंक की गिरावट के साथ 38,144 पर बंद हुआ.

इसी तरह नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का 50 शेयरों वाला निफ्टी भी करीब 186 अंकों की तेजी के साथ 11,387.35 पर खुला. थोड़ी ही देर में निफ्टी 11,433 पर पहुंच गया.लेकिन अंत में निफ्टी 69 अंक की गिरावट के साथ 11,132.75 पर बंद हुआ.

सोने-चांदी की कीमतों में आया भारी उछाल, जानिए क्या है आज का भाव

कारोबार के दौरान सेंसेक्स 786 अंकों की तेजी के साथ 39,083 पर पहुंच गया था. इस तरह अपने दिन भर की ऊंचाई से सेंसेक्स करीब 939 अंक टूटकर बंद हुआ. इसी तरह निफ्टी भी अपने 11,433 की दिन भर की ऊंचाई से करीब 300 अंक टूटकर बंद हुआ.

किन शेयरों में आई तेजी

944 शेयरों में तेजी और 1469 शेयरों में गिरावट देखी गई. निफ्टी पर बढ़ने वाले प्रमुख शेयरों में एचसीएल टेक, आयशर मोटर्स, नेस्ले, आईसीआईसीआई बैंक और इन्फोसिस शामिल रहे, जबकि गिरने वाले प्रमुख शेयरों में यस बैंक, एसबीआई, टाटा स्टील, गेल और हिंडाल्को शामिल रहे.आईटी के अलावा बाकी सभी सेक्टर लाल निशान में देखे गए. बीएसई मिडकैप और स्मॉलकैप में क्रमश: 0.3 फीसदी और 0.7 फीसदी की गिरावट आई.

क्यों आई थी तेजी

वैश्विक स्तर पर कई देशों ने कोरोना को लेकर नीतिगत राहत पैकेज की तैयारी की है, इसकी वजह से शेयर बाजारों की दिशा पलटी.

कोरोना के डर से पिछले हफ्ते दुनिया भर के शेयर बाजारों को 5 लाख करोड़ डॉलर से ज्यादा का चूना लग चुका है. इसकी वजह से शेयर बाजारों में एक दशक की सबसे ज्यादा गिरावट आई थी. वित्तीय बाजारों को हुए भारी नुकसान के बाद अमेरिका के केंद्रीय बैंक फेडरल रिजर्व, बैंक ऑफ जापान और रिजर्व बैंक ऑफ आस्ट्रेलिया ने नीतिगत कदम उठाने की तैयारी की है.

सेंसेक्स के शेयरों की स्थ‍िति

 

दशक का सबसे मनहूस सप्ताह

कोरोना के कहर से दुनियाभर में मचे कोहराम के कारण भारतीय शेयर बाजार के लिए बीता कारोबारी सप्ताह बीते एक दशक से ज्यादा समय का सबसे मनहूस सप्ताह रहा. विदेशी बाजार से मिले निराशाजनक संकेतों से घरेलू बाजार में आई भारी गिरावट के कारण निवेशकों का करीब 11 लाख करोड़ रुपये डूब गया.

सेंसेक्स पिछले सप्ताह के मुकाबले करीब सात फीसदी टूटा, जबकि निफ्टी में सात फीसदी से ज्यादा की गिरावट आई। बंबई स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) के 30 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक सेंसेक्स शुक्रवार को पिछले सप्ताह के मुकाबले 2,872.83 अंकों यानी 6.98 फीसदी की भारी गिरावट के साथ 38,297.29 पर बंद हुआ.

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) के 50 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक निफ्टी 879.10 अंक यानी 7.27 फीसदी लुढ़ककर 11,201.75 पर बंद हुआ.

पिछले हफ्ते क्यों गिरे थे बाजार

चीन से कोरोनावायरस का प्रकोप दुनिया के अन्य देशों में फैलने के कारण वैश्विक अर्थव्यवस्था का विकास प्रभावित होने की आशंकाओं के बीच दुनियाभर के बाजारों में विकवाली के भारी दबाव में प्रमुख संवेदी सूचकांकों में भारी गिरावट दर्ज की गई, जिसका असर भारतीय शेयर बाजार पर भी रहा.

घरेलू कारकों का भी रहेगा असर

भारतीय शेयर बाजार में बीते सप्ताह आई भारी गिरावट के बाद भले ही रिकवरी देखने को मिली हो, लेकिन इस हफ्ते कोरोना का असर बरकरार रह सकता है. इसके अलावा, प्रमुख आर्थिक आंकड़ों और देश के ताजा घटनाक्रमों का भी घरेलू शेयर बाजार पर असर देखने को मिलेगा. जानकारों की माने तो विदेशी संकेतों से घरेलू बाजार को दिशा मिलेगी.

Ujjawal Prabhat Android App Download Link
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button