तिरंगा मास्क पर रोक लगाने की मांग, खऱाब होने पर फेंकने और जलाने पर आपत्ति

भिवानी। पूरी दुनिया में कोरोना वाइरस फैला हुआ है लेकिन भारत में स्वतंत्रता दिवस के मौक़े पर आपदा को अवसर बनाने के चक्कर में कुछ कम्पनियाँ निजी लाभ के लिए तिरंगे का अपमान कर रही हैं। ये बात भाजपा आईटी सेल के जि़ला सह संयोजक और अग्रवाल वैश्य समाज के युवा प्रांत मंत्री पंकज कसेरा ने कुछ कम्पनियाँ द्वारा निजी लाभ के लिए तिरंगे का अपमान करने पर कही।

उन्होंने कहा कि कुछ कम्पनियाँ भारत के राष्ट्रीय ध्वज तिरंगे के रूप का मास्क बनाने लगी है और वह मास्क बाज़ार में बिक भी रहा है, परंतु जब मास्क खऱाब हो जाता है तो संक्रमण रोकने के लिए उसे या तो कूड़ेदान में डाल दिया जाता है या जला दिया जाता है।

उन्होंने कहा कि जब मास्क ही तिरंगे जैसा होगा तो उसके साथ भी यही होगा और ये कार्य तिरंगे को अपमानित करने वाला है। उन्होंने कहा कि किसी भी देश के राष्ट्रीय ध्वज का अपमान देश का अपमान होता है।

कसेरा ने केंद्रीय सरकार से माँग करते हुए कहा की जल्द से जल्द तिरंगे वाले मास्क बनाने पर रोक लगाई जाए और साथ ही उन्होंने लोगों से अपील करते हुए कहा की तिरंगे वाला मास्क ना खऱीदें। उन्होंने कहा कि वो इस बात का राष्ट्रीय स्तर पर विरोध करेंगे।

Ujjawal Prabhat Android App Download Link
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button