डीएम ने कहा- केदारनाथ में प्रसाद की थाली में चौलाई का लड्डू अनिवार्य

- in उत्तराखंड, राज्य

रुद्रप्रयाग: केदारनाथ में यात्रा व्यवस्थाओं का जायजा लेने गए जिलाधिकारी ने निर्देश दिए कि प्रसाद की थाली में चौलाई का लड्डू अनिवार्य रूप से शामिल किया जाए। उन्होंने कहा कि स्थानीय उत्पादों को बढ़ावा देने के लिए केदारनाथ जाने वाले पैदल मार्ग पर पड़ने वाली दुकानों में बुरांश और माल्टा का जूस रखना भी अनिवार्य किया गया है। कहा कि जो व्यापारी इसका उल्लंघन करेंगे उन पर कार्रवाई की जाएगी। डीएम ने कहा कि  स्थानीय उत्पाद को बढ़ावा देने के लिए व्यापारियों को भी सहयोग देना होगा। 

जिलाधिकारी ने बताया कि निर्देश के बावजूद व्यापारी अपनी दुकानों में बुरांश और माल्टा का जूस नहीं रख रहे हैं। इस पर नाराजगी जताते हुए डीएम ने सभी सेक्टर मजिस्ट्रेटों को दुकानों के नियमित निरीक्षण के भी निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि केदारनाथ के लिए प्रसाद तैयार कर रहे स्वयं सहायता समूहों के पैकेट में तो चौलाई का लड्डू है, लेकिन प्रसाद की थाली में ऐसा नहीं है। इसीलिए थाली में भी इसे शामिल किया जाए।

निरीक्षण के दौरान जिलाधिकारी ने पुनर्निर्माण कार्यों की प्रगति भी जानी। लोक निर्माण विभाग, स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों से यात्रा व्यवस्था की जानकारी ली और साफ-सफाई पर विशेष ध्यान देने के निर्देश दिए। उन्होंने घोडा पडाव के पशुचिकित्सालय में साइन बोर्ड लगाने, उरेडा को भैरव गदेरे में विद्युत व्यवस्था स्थापित करने को भी कहा। डीएम ने सेक्टर मजिस्ट्रेट को निर्देश दिए कि गौरीकुंड से केदारनाथ के बीच संचालित हो रहीं अवैध दुकानों को तत्काल बंद किया जाए। 

लाइसेंस निरस्त किए

निरीक्षण के दौरान जिलाधिकारी को दो घोड़े बिना हॉकर के नजर आए तो दो खच्चरों का संचालन एक ही व्यक्ति कर रहा था। इस पर उन्होंने इन घोड़ा खच्चर मालिकों के लाइसेंस निरस्त करने के भी आदेश दिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

उत्‍तराखंड: मानसून सत्र के दूसरे दिन कांग्रेस ने अतिक्रमण के मसले को लेकर किया हंगामा

देहरादून: उत्‍तराखंड विधानसभा में मानसून सत्र के दूसरे