ट्रंप का दावा-चीनी लैब से आया है कोरोना वायरस

न्यूज डेस्क

कोरोना वायरस कहां से आया है इसको लेकर अब तक संशय बना हुआ है। कभी कहा जाता है कि जानवरों से आया है तो कभी कहा जाता है कि लैब से निकला है। अमेरिकी एजेंसियां भी कोरोना वायरस की जड़े तलाशने में जुटी हुई हैं।

गुरुवार को अमेरिका के राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रंप ने कोरोना वायरस को लेकर दावा किया। पत्रकारों से बातचीत में उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस को चीन के वुहान की लैब में कोरोना को पैदा किया गया है।

यह भी पढ़ें :  US इकोनॉमी : 2014 के बाद पहली बार रसातल में जीडीपी ग्रोथ

एक पत्रकार ने जब ट्रंप से पूछा कि आप इतने आत्मविश्वास के साथ कैसे कह रहे हैं कि कोरोना वायरस वुहान इंस्टिट्यूट ऑफ वायरोलॉजी में पैदा किया गया? क्या आपके पास कोई सबूत है? तो इन सवालों के जवाब में उन्होंने कहा कि-”बिल्कुल मेरे पास सुबूत है। मुझे लगता है कि विश्व स्वास्थ्य संगठन को शर्म आनी चाहिए कि वो चीन के प्रचार-प्रसार का काम कर रहा है। who चीन के पब्लिक रिलेशन की तरह काम कर रहा है।

यह भी पढ़ें : सीरम इंस्टीट्यूट का दावा- सितंबर तक मिलने लगेगा भारत में बना टीका! 

अमरीकी राष्ट्रपति ने कहा, ”मुझे यह नहीं पता कि चीन से ऐसा गलती से हुआ या जानबूझकर। या फिर किसी ने कोई लक्ष्य को साधने के लिए किया। मैं इस बात को नहीं समझ पाता हूं कि लोगों को हूबे से बाहर बाकी चीन में जाने की अनुमति नहीं थी लेकिन पूरी दुनिया में जाने की थी। पूरे चीन में लोगों की आवाजाही पर पाबंदी थी लेकिन दुनिया भर में जाने के लिए कोई पाबंदी नहीं थी। यह बहुत ही बुरा हुआ है। यह बहुत कठिन सवाल है और इसका जवाब मिलना बाक़ी है।”

अमरीकी राष्ट्रपति ने कहा कि वो ये नहीं कह सकते कि वो ऐसा क्यों मानते हैं। उन्होंने कहा कि चीन या तो वायरस को फैलने से रोक नहीं सका, या उसने फैलने दिया। ट्रंप ने चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग पर आरोप लगाया है कि उन्होंने पूरे मामले में पारदर्शिता नहीं बरती।

दुनिया भर में अब तक कोरोना वायरस के कारण 32 लाख से ज़्यादा लोग संक्रमित हो चुके हैं और दो लाख 31 हजार से ज़्यादा लोगों की जान जा चुकी है।

यह भी पढ़ें :  मोदी को अनफॉलों करने पर अमेरिका ने क्या कहा

Ujjawal Prabhat Android App Download Link
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button