टॉयलेट पेपर के चलते लगा 2.36 करोड़ रुपए जुर्माना

ब्रिटिश एयरवेज की एक फ्लाइट उड़ान भरने वाली थी तब इसके बाथरुम में टॉयलेट पेपर की कमी देखी गई। पेपर न होने के कारण फ्लाइट पांच घंटे देरी से उड़ी। यात्रियों को देरी से पहुंचाने के लिए ब्रिटिश एयरवेज को मुआवजा देना होगा। मुआवजा के तौर पर एयरवेज को करीब 2.36 करोड़ रुपए का मुआवजा देना होगा। बता दें कि फ्लाइट दोपहर करीब 1.40 बजे लंदन से बारबाडोस के लिए उड़ान भरने वाली थी। इससे पहले की फ्लाइट उड़ान भरती यात्रियों से कहा गया कि फ्लाइट में कुछ गड़बड़ी की वजह से उड़ान देरी से भरी जाएगी।

इस व्यक्ति ने 83 साल की उम्र में की पीएचडी,बेटे से ली प्रेरणा टॉयलेट पेपर के चलते लगा 2.36 करोड़ रुपए जुर्मानातीन मंजिला इमारत की खिड़की पर झूली बच्ची, फिर भी जिंदा…

कंपनी यात्रियों को अदा करेगी जुर्माना
यात्रियों को देरी की वजह कोई एक नहीं बल्कि हर बार अलग-अलग बताई गई। किसी से कहा गया क्लीनिंग का काम चल रहा है तो किसी से टेक्नीकल प्रॉब्लम बताया गया। वजह बताकर कहा गया कि देरी होने के लिए खेद है लेकिन फ्लाइट जल्द ही रवाना कर दी जाएगी। यूरोप में विमानन कंपनियों का एक नियम है। फ्लाइट के देरी होने प्रत्येक यात्रियों को करीब 48.750 हजार रुपए हर्जाना देना पड़ता है। ब्रिटिश एयरवेज को दोनों ओर की फ्लाइट के लिए करीब 2.36 करोड़ रुपए का हर्जाना देना होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

केन्या के अस्पताल में मिले 12 मृत नवजातों के शव, डॉक्टर समेत कई निलंबित

केन्या के एक अस्पताल में प्लास्टिक के थैलों