टैक्सी ड्राइवर बाप-बेटे की पिटाई के मामले में AAP विधायक जरनैल सिंह ने अमित शाह को लिखा पत्र

दिल्ली के मुखर्जी नगर में टैक्सी ड्राइवर बाप-बेटे की पिटाई के मामले में आम आदमी पार्टी विधायक जरनैल सिंह ने केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह को खत लिखा है. जरनैल सिंह ने सरबजीत सिंह के खिलाफ एफआईआर का विरोध किया. उन्होंने कहा कि सरबजीत पर मामला दर्ज नहीं होना चाहिए. पुलिस वालों को जल्दी गुस्सा आता है, उन्हें ट्रेनिंग की जरूरत है. जरनैल सिंह ने मनजिंदर सिंह सिरसा की पुलिस कमिश्नर से मुलाकात पर भी सवाल उठाए हैं.

Loading...

घटना के एक दिन बाद सोमवार को तिलक नगर से विधायक जरनैल सिंह ने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के साथ पीड़ित सरबजीत सिंह से मिलने गए थे. जरनैल सिंह ने इस मुलाकात के बाद कहा था कि एक आदमी को 10 पुलिसकर्मी एक साथ मार रहे थे. 3 पुलिसकर्मियों को सस्पेंड करना कोई कार्रवाई नहीं है. थोड़े दिन बाद सब खत्म हो जाएगा. देश की राजधानी में ऐसी गुंडागर्दी चल रही है, वो भी पुलिस ऐसे मारपीट कर रही है.

क्या है मामला-

पुलिस और ऑटो ड्राइवर के बीच मारपीट का वीडियो वायरल हुआ था. इसमें सिख ऑटो ड्राइवर के साथ पुलिसकर्मी मारपीट करते नजर आ रहे थे. मामला मुखर्जी नगर थाने का था. वीडियो वायरल होने के बाद मुखर्जी नगर थाने के बाहर एकत्रित हो गए और आरोपी पुलिसकर्मियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग करने लगे. फिलहाल इस मामले में कार्रवाई करते हुए तीन पुलिसकर्मियों को सस्पेंड कर दिया गया है. यह पूरा मामला जांच के लिए क्राइम ब्रांच को सौंप दिया गया है.

हाईकोर्ट पहुंचा मामला-

मारपीट का यह मामला दिल्ली हाईकोर्ट पहुंच गया है. कोर्ट में एक जनहित याचिका दायर की गई. इस पर कोर्ट आज दोपहर 2 बजे सुनवाई करेगा. याचिका में ऑटो चालक सरबजीत सिंह और उनके नाबालिग बेटे के साथ कथित पुलिस बर्बरता की जांच सीबीआई से कराने की मांग की गई है.

Loading...
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *