Home > जीवनशैली > पर्यटन > झारखण्ड जैसे झरने और कही नहीं मिलेंगे

झारखण्ड जैसे झरने और कही नहीं मिलेंगे

पर्यटकों के लिए भारत का सबसे ज्यादा प्राकृतिक संसाधनो से भरपूर राज्य झारखण्ड में बहुत सारे ऐसे दृश्य है. जो आपके मन को उनकी और आकर्षित करते है. जिनको देखकर आपको एक सुखद आनंद की अनुभूति होगी. देखे जाने वाले स्थानो में मंदिर, झरने, बांध है. इनमे सबसे ज्यादा अच्छे लगनी वाली में झरनो की खूबसूरती है. झरने को देखना एक अदभुत नज़ारे से कम नहीं वैसे झारखण्ड प्राकृतिक संसाधनो से पूरी तरह सजा हुआ है.झारखण्ड जैसे झरने और कही नहीं मिलेंगे

कौन कौन से स्थान है जो आपको आकषिर्त करते है.

1. हिरणी फ़ोल : झारखण्ड का यह खूबसूरत नजारा घने जंगलो के बीच घिरा है इसकी दुरी झारखण्ड की राजधानी रांची से 75 किलोमीटर पड़ती है. यहाँ पर जाने के लिए आपको बस या किसी निजी वहां से जाना पड़ेगा यहाँ जाने से पहले आपको बहुत सारे खूबसूरत नज़ारे रास्ते में देखने को मिलेंगे क्योकि इसके आस पास बहुत सुन्दर दृश्य जिसके कारण यह प्रसिद्ध है.

2. सीता फ़ोल : रांची से इसकी दुरी 45  किलो मीटर पड़ती है.यह भी खूबसूरती में कम नहीं है इसका नाम माँ सीता के नाम पर पड़ा है.

3. रजरप्पा फ़ोल : यहाँ पर बहुत खूबसूरत मंदिरो का निर्माण हुआ है.जो काफी प्रशिद्ध है.यह दो नदियों के संगम पर स्थित है.यहाँ नदी की तेज धारा बहती है. पर्यटक यहाँ पर साल भर आते रहते है.यहा बोटिंग भी की जाती है. रांची से इसकी दुरी 65  किलोमीटर है यहाँ पर आने के लिए बहुत सारे वहां आपको मिल जायेंगे. 

4. जोन्हा फ़ोल : रांची से इसकी दुरी 40  किलोमीटर है. यहाँ पर भगवान बुद्ध ने नदी में स्नान किया था इसका नाम जोन्हा पड़ने कारण यहाँ नजदीक एक गावं जोन्हा है.जिसके नाम पर पड़ा यह पर पहाड़ियों के ऊपर से निचे गिरता कंचन पानी जो आपके मन को हर लेता है. इसको देखने लिए साल भर देश के कई जगह से लोग आते रहते है.

5. हुडरू फ़ोल : इसका प्रसिद्ध होने का कारण यहाँ पर पहाड़ो से गुजरकर स्वर्णरेखा नदी लगभग 320  फिट की उचाई से निचे गिरती है.जिसका मनोरम जल आपको आकर्षित करता है. आप इन झरनो में गर्मी के समय ही स्नान करे. क्योकि उस समय  पानी भी कम रहता और गहराई भी कम होती लेकिन बारिश के समय आप यहाँ कोई जोखिम ना उठाए .रांची से इसकी दुरी 28  किलोमीटर है .आप बी रोड से यहाँ जा सकते हो.

6. दसम फ़ोल : इसकी सुंदरता पर्यटकों को अपनी और आकर्षित करती है और इसका नाम वहाँ के एक बाघ के ऊपर से पड़ा है. यहाँ पर कांची नदी का एक झरना पहाड़ियों के ऊपर से 144  फिट निचे गिरता है. जो की बहुत ही सुन्दर दिखता है. यहाँ पर प्राकृतिक संसाधनो की कई बड़ी बड़ी खदाने है.आपको यहाँ बहुत सारे स्थान देखने को मिलेंगे जिनको देखकर आप खुश हो जायेंगे.रांची से इसकी दुरी 40  किलोमीटर है.यहाँ रोड से जा सकते है.

Loading...

Check Also

बर्फबारी का असली मजा लेना है तो घूमने जाएं शिमला, जन्नत से कम नहीं है यहां का नजारा..

बर्फबारी का असली मजा लेना है तो घूमने जाएं शिमला, जन्नत से कम नहीं है यहां का नजारा..

हिमाचल प्रदेश की राजधानी शिमला में बीते दिनों साल की पहली बर्फबारी हुई है। बर्फबारी …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com