जेल में ‘बी श्रेणी’ के कैदी बने शरीफ-मरियम, मिलेंगी ये सुविधाएं

पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ और उनकी बेटी मरियम ने रावलपिंडी में कड़ी सुरक्षा वाली अदियाला जेल में पहली रात गुजारी। दोनों वीआईपी कैदियों को जेल में ‘बी श्रेणी’ की सुविधा दी गई हैं। जेल में 'बी श्रेणी' के कैदी बने शरीफ-मरियम, मिलेंगी ये सुविधाएं

‘बी श्रेणी’ कैदियों से जेल में मेहनत नहीं कराई जाती है। भ्रष्टाचार के एक मामले में 6 जुलाई को सजा सुनाए जाने के बाद शुक्रवार रात लंदन से पाकिस्तान लौटे शरीफ और मरियम को लाहौर हवाईअड्डे पर ही गिरफ्तार कर लिया गया था।

राष्ट्रीय जवाबदेही ब्यूरो (एनएबी) के अधकारियों ने शरीफ (68) और उनकी बेटी मरियम (44) को एवेनफील्ड संपत्ति मामले लंदन से लाहौर पहुंचने के तुरंत बाद हिरासत में ले लिया था। वे अबू धाबी के रास्ते लाहौर पहुंचे थे। उन्हें एक विशेष विमान से इस्लामाबाद ले जाया गया और फिर पुलिस काफिले की सुरक्षा में अलग-अलग बख्तरबंद गाड़ियों में उन्हें अदियाला जेल ले जाया गया।

जियो न्यूज ने सूत्रों के हवाले से खबर दी है कि अधिकारियों ने अब उन्हें अदियाला जेल में रखने का निर्णय लिया है। आदियाला जेल में इस्लामाबाद मैजिस्ट्रेट और वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों की उपस्थिति में डॉक्टरों की एक टीम ने शरीफ और उनकी बेटी मरियम की मेडिकल जांच की और उन्हें फिट घोषित किया।
 
बी श्रेणी की सुविधा में आने के चलते नवाज जेल डिपार्टमेंट की अनुमति से अपने पैसे खर्च कर टीवी, फ्रीज और एसी जैसी सुविधाएं हासिल कर सकते हैं। इस बीच खबर आई है कि नवाज शरीफ के वकील एवेनफील्ड संपत्ति मामले में कोर्ट के फैसले के खिलाफ सोमवार को अपील करेंगे।

सामान्य तौर पर ए या बी क्लास के कैदियों के कमरे में एक चारपाई, एक कुर्सी, एक चायसेट, एक शेल्फ, नहाने-धोने के सामान और बिजली नहीं होने पर एक लालटेन होती है। बाकी की सुविधा के लिए अपने पैसे खर्च करने पड़ते हैं। आपको बता दें कि नवाज शरीफ और मरियम को शुक्रवार को पाकिस्तान लौटने पर गिरफ्तार किया गया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

लोअर पीसीएस-2015 के चयनितों को चार माह बाद भी नियुक्ति का इंतजार – राघवेन्द्र प्रताप सिंह

लखनऊ। एक ओर जहाँ सूबे की योगी आदित्यनाथ