जेट एयरवेज ने खड़े किए 5 और विमान, कुल 37 विमान परिचालन से बाहर

जेट एयरवेज ने बुधवार को अपने 5 और विमानों को खड़ा कर दिया। इसकी वजह भी विमानों के लीज की किस्त का नहीं चुका पाना रही है। इसके साथ ही जेट के कुल 37 विमान परिचालन से बाहर हो गए हैं।

नकदी संकट से जूझ रही जेट एयरवेज के चेयरमैन नरेश गोयल ने इस हफ्ते की शुरुआत में कहा था कि उसके 50 से ज्यादा विमान परिचालन से बाहर हैं। एयरलाइन के पास कुल 119 विमानों का बेड़ा है, जिनमें से करीब 5 विमान बोइंग 737 मैक्स के हैं। यह जानकारी कंपनी की वेबसाइट पर दर्ज है।
जेट एयरवेज ने किस्त चुका पाने में असमर्थता के कारण पहली बार सात फरवरी को परिचालन से बाहर करने की सूचना दी थी। तब कंपनी ने चार विमानों को परिचालन से बाहर किया था। कंपनी ने शेयर बाजार को जानकारी दी थी कि लीज पर देने वालों का किस्त नहीं चुका पाने के कारण पांच अन्य विमानों को परिचालन से बाहर किया गया है।
गोयल ने 8 मार्च को लिखे अपने पत्र में कहा, “जैसा कि आपको संदेह नहीं है कि जेट एयरवेज बहुत अनिश्चित स्थित में है, क्योंकि इसके 50 से ज्यादा विमानों को खड़ा करना पड़ा है, वेंडर्स का बढ़ता एरियर और कर्मचारियों की सैलरी का भुगतान अंतरिम वित्त पोषण की आवश्यकता को और अधिक अनिवार्य बनाता है।” इसमें कहा गया कि विमानों को खड़ा किए जाने के कारण नेटवर्क में आए व्यवधान को कम करने से सभी प्रयास किए जा रहे हैं और वो अपने ग्राहकों को सूचित कर रहा है और उनको अकोमोडेट भी कर रहा है।

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button