अपने जीन्स में मौजूद कैंसर के खतरे से अनजान हैं 80 फीसदी लोग

- in Mainslide, राष्ट्रीय

दुनिया भर में कैंसर के मामलों में तेजी से बढ़ोतरी हो रही है. सबसे दुर्भाग्य की बात ये है कि अधिकतर लोगों को लास्ट स्टेज में ही बीमारी का पता चलता है.

एक नई स्टडी के मुताबिक, 80 फीसदी लोगों को अपने जेनेटेकली (आनुवांशिक तौर पर) कैंसर के खतरे के बारे में पता ही नहीं होता है. यह स्टडी 50,000 लोगों पर की गई थी.

रूटीन चेकिंग के अभाव में अधिकतर लोगों को कैंसर डायग्नोसिस के बाद ही यह बात पता चलती है कि उनके जीन्स में कैंसर से संबंधित वैरिएंट्स BRCA1 or BRCA2 हैं.

यूएस की येल यूनिवर्सिटी में प्रोफेसर माइकेल मुरे ने कहा, जैसा कि मेरे एक साथी ने कहा था कि लोगों को टेस्ट कराने के लिए किसी ट्रेजडी के होने तक का इंतजार करना पड़ता है.

इस स्टडी में शामिल हुए लोगों की औसत उम्र 60 थी. इनमें से 276 लोगों में BRCA रिस्क वैरिएंट मौजूद था लेकिन केवल 18 फीसदी लोगों को ही स्टडी से पहले अपने कैंसर रिस्क फैक्टर के बारे में मालूम था.

BRCA पॉजिटिव जीवित लोगों में से 16 फीसदी लोगों को BRCA से संबंधित कैंसर था. 

जबकि स्टडी के नतीजे आने से पहले मौत का शिकार हो चुके BRCA पॉजिटिव मरीजों में से 47 फीसदी को BRCA से संबंधित कैंसर था.

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

चिकित्‍सकों को ब्रह्मकुमारी राधा ने कराया मेडीटेशन

लखनऊ 22 अक्‍टूबर। रोगी की चिकित्‍सा से जुड़े