Home > अन्तर्राष्ट्रीय > जापान: भूस्खलन और बाढ़ के बाद मरने वालों की संख्या 81 हुई, दर्जनों लापता

जापान: भूस्खलन और बाढ़ के बाद मरने वालों की संख्या 81 हुई, दर्जनों लापता

जापान में बीते गुरुवार से हो रही मूसलाधार बारिश से भूस्खलन और बाढ़ के बाद मृतकों की संख्या बढ़कर 81 हो गई है. समाचार एजेंसी सिन्हुआ के अनुसार, जापान के सार्वजनिक प्रसारणकर्ता एनएचके ने रविवार को बताया कि 78 लोगों की मौत की पुष्टि हो चुकी है, आठ लोग गंभीर रूप से घायल हैं और कम से कम 57 लोग लापता हैं.

एनएचके ने कहा, “78 लोगों की मौत की पुष्टि हो चुकी है, जिनमें 35 लोग भारी बारिश और भूस्खलन से सबसे ज्यादा प्रभावित हिरोशिमा प्रांत और 20 लोग एहाइम प्रांत से हैं. जबकि पश्चिमी और दक्षिण-पश्चिमी जापान के फुकुओका, क्योटो, ओकायामा, गिफू, कोचि, शिगा, ह्योगो और यामागुची प्रांतों से भी लोगों के मरने की खबरें मिली हैं.”

पुलिस, अग्निशमन दल, आत्मरक्षा बल और जापानी तटरक्षक के लगभग 54,000 जवान भारी बारिश के बाद हुए भूस्खलन और बाढ़ में फंसे लोगों की तलाश करने और उन्हें बचाने में जुटे हुए हैं.

प्रधानमंत्री टेरीजा मे को बड़ा झटका, ब्रिटेन के ब्रेग्जिट मंत्री ने इस्तीफा दिया

रविवार शाम तक 15 प्रांतों के 25 लाख लोग अभी भी सुरक्षित स्थानों की ओर निकल रहे थे.

जापान के भूमि, बुनियादी ढांचा, परिवहन और पर्यटन मंत्रालय के अनुसार, रिकार्ड तोड़ बारिश से जापान के 47 में से 28 प्रांतों में 201 स्थानों पर भूस्खलन जैसी भौगोलिक आपदाएं घटी हैं.

जापान मौसम एजेंसी (जेएमए) ने रविवार को बताया कि एक सक्रिय मौसमी बारिश के रुख के कारण जापान के सबसे पूर्वी और पश्चिमी क्षेत्रों में मूसलाधार बारिश हो रही है.

एजेंसी ने जापान के किंकी क्षेत्र में मूसलाधार बारिश के बाद बाढ़, भूस्खलन, बिजली कड़कने और अंधड़ की चेतावनी जारी की है. इस प्रांत में क्योटो, ह्योगो और ओसाका प्रांत आते हैं.

Loading...

Check Also

700 अरब डॉलर के रक्षा बजट पर भी चीन-रूस से जंग हार सकता है यूएस

700 अरब डॉलर के रक्षा बजट पर भी चीन-रूस से जंग हार सकता है यूएस

पूंजीवाद और आधुनिक हथियारों के बल पर पूरी दुनिया में 700 अरब डॉलर का सबसे …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com