जानिए, भाद्रपद महीने में किन- किन कामों पर है पाबंदी…

- in धर्म

सोमवार दिनांक 27.08.18 को भाद्रपद महीने का प्रारंभ हो रहा है। हिंदू पंचांग का छठा माह भाद्रपद है। भाद्रपद चातुर्मास के चार पवित्र महीनों में से दूसरा महीना है। इसे आम भाषा में भादो या भादवा नाम से बुलाया जाता है। इसकी पूर्णिमा सदैव पूर्वा या उत्तरा भाद्रपद नक्षत्र में पड़ती है। इसी कारण इसका नाम भाद्रपद है। भाद्रपद माह में स्नान, दान तथा व्रत करने से जन्म-जन्मान्तर के पाप नाश हो जाते हैं। भादो में अनेक लोक व्यवहार के कार्य निषेध होने के कारण यह माह शून्य मास भी कहलाता है। भादो में नए घर का निर्माण, विवाह, सगाई आदि मांगलिक कार्य शुभ नहीं माने जाते, इसलिए भादो में भकित, स्नान-दान के लिए उत्तम समय माना गया है। भाद्रपद धार्मिक तथा व्यावहारिक नजरिए से जीवनशैली में अनुशासन को अपनाना दर्शाता है। इसलिए इसमें कुछ नियमों का पालन करना अनिवार्य है। शास्त्रनुसार भाद्रपद माह में कुछ कार्य निषेध हैं तथा कुछ खाद्य सामाग्री पर भी वर्जना बताई गई है। इन वर्जनाओं और निर्देशन के पीछे वैज्ञानिक और संस्कृति उद्देश भी हैं। भाद्रपद सोमवार के विशेष पूजन, व्रत व उपाय से सुंदरता में निखार आता है, बिगड़े स्वास्थ्य में सुधार आता है, प्रेम जीवन बेहतर बनता है।जानिए, भाद्रपद महीने में किन- किन कामों पर है पाबंदी...

स्पेशल पूजन विधि: घर की उत्तर-पश्चिम दिशा में सफ़ेद कपड़ा बिछाकर श्री कृष्ण का चित्र व यंत्र स्थापित करके विधिवत षोडशोपचार पूजन करें। गौघृत का दीप करें, चंदन की अगरबत्ती जलाएं, सफ़ेद फूल चढ़ाएं, चंदन चढ़ाएं, केला चढ़ाएं, साबूदाने की खीर का भोग लगाएं, पान, सुपारी, नारियल व दक्षिणा अर्पित करें तथा इस विशेष मंत्र का 1 माला जाप करें।

स्पेशल मंत्र: ॐ गोपगोपीश्वराय नमः॥
सुबह का स्पेशल मुहूर्त: सुबह 09:15 से सुबह 10:15 तक।

उपाय चमत्कार:
गुड हैल्थ के लिए: श्रीकृष्ण मंदिर में दूध दान करें।

गुडलक के लिए: श्रीकृष्ण पर चढ़ा सफ़ेद फूल जेब में रखें।

विवाद टालने के लिए: तुलसी पत्र पर मावा रखकर शिवलिंग पर चढ़ाएं।

नुकसान से बचने के लिए: श्रीकृष्ण के चित्र पर सफ़ेद चंदन अर्पित करें।

प्रोफेशनल सक्सेस के लिए: श्रीकृष्ण पर खीर चढ़ाकर गरीब मजदूर को दान करें।
एजुकेशन में सक्सेस के लिए: टेक्स्टबुक पर “ऐंग क्लीं श्रीं” लिखे।

बिज़नेस में सफलता के लिए: श्रीकृष्ण पर चढ़ा सफ़ेद धागा गल्ले पर बांधें।

पारिवारिक खुशहाली के लिए: शाम के समय राधाकृष्ण की आरती करें।

लव लाइफ मे सक्सेस के लिए: श्री राधा-कृष्ण के चित्र पर गुलाबी फ़ूल चढ़ाएं।

मैरिड लाइफ में सक्सेस के लिए: पति-पत्नी एक साथ राधा-कृष्ण मंदिर में दीपक करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

श्राद्ध के दिनों में राशि अनुसार करें इन मंत्र जाप, होगा अपार लाभ..

पितृ पक्ष शुरू हो चुके है और आज