जानिए, खाली पेट लहसुन खाने से होते ये 7 ‘चमत्कारिक’ फायदे…

1. दिल रहेगा सेहतमंद
लहसुन दिल से संबंधित समस्याओं को भी दूर करता है. लहसुन खाने से खून का जमाव नहीं होता है और हार्ट अटैक होने का खतरा कम हो जाता है. लहसुन और शहद के मिश्रण को खाने से दिल तक जाने वाली धमनियों में जमा वसा निकल
जाता है, जिससे ब्‍लड सर्कुलेशन ठीक तरह दिल तक पहुंचता है.

2. हाई बीपी से छुटकारा

लहसुन खाने से हाई बीपी में आराम मिलता है. दरअसल, लहसुन ब्‍लड सर्कुलेशन को कंट्रोल करने में काफी मददगार है. हाई बीपी की समस्‍या से जूझ रहे लोगों को रोजाना लहसुन खाने की सलाह दी जाती है. 


3. पेट की बीमारियां छूमंतर
पेट से जुड़ी बीमारियों जैसे डायरिया और कब्‍ज की रोकथाम में लहसुन बेहद उपयोगी है. पानी उबालकर उसमें लहसुन की कलियां डाल लें. खाली पेट इस पानी को पीने से डायरिया और कब्‍ज से आराम मिलेगा. यही नहीं लहसुन शरीर के अंदर
मौजूद जहरीलें पदार्थों को बाहर निकालने का काम भी करता है.  
4. डाइजेशन होगा बेहतर
लहसुन में आपके डाइजेस्टिव सिस्‍टम को ठीक करने की ताकत होती है. खाली पेट लहसुन की कलियां चबाने से आपका डाइजेशन अच्‍छा रहता है और भूख भी खुलती है. 
 
5. टेंशन से छुट्टी 
आपको यह जानकर हैरानी होगी कि लहसुन टेंशन को भगाने में भी मददगार है. कई बार हमारे पेट के अंदर ऐसे एसिड बनते हैं जिससे हमें घबराहट होने लगती है. लहसुन इस एसिड को बनने से रोकता है. लहसुन खाने से सिर दर्द और हाइपर
टेंशन में काफी आराम मिलता है. 
6. दांत दर्द में मिलेगा आराम
लहसुन में एंटीबैक्‍टीरियल और दर्द निवारक गुण मौजूद होते हैं. अगर आपके दांत में दर्द है तो लहसुन की एक कली पीसकर दर्द वाली जगह पर लगा दें. कुछ ही देर में आपको दांत दर्द से आराम मिल जाएगा. यही नहीं खाली पेट लहसुन का
सेवन करने से नसों में झनझनाहट से भी आराम मिलता है.
7. सर्दी-खांसी में राहत
लहसुन सांस से संबंध‍ित बीमारियों की रोकथाम में भी सहायक है. सर्दी-जुकाम, खांसी, अस्‍थमा, निमोनिया, ब्रोंकाइटिस और के इलाज में प्राकृतिक दवा की तरह काम करता है.
 

Loading...

Check Also

सुबह जल्दी जगने वाली महिलाओं में ब्रेस्ट कैंसर का खतरा रहता है कम

सुबह जल्दी जगने वाली महिलाओं में ब्रेस्ट कैंसर का खतरा रहता है कम

अपने दिन की शुरुआत देर से करने वाली महिलाओं की तुलना में सुबह जल्दी उठने …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com