जानिए कब हो सकता है 7वां वेतन आयोग का ऐलान

- in कारोबार

केंद्रीय कर्मचारियों के लिए सातवें वेतन आयोग लागू होने का इंतजार लगातार बढ़ता जा रहा है. पिछले हफ्ते केंद्र सरकार ने किसानों के लिए न्यूनतम समर्थन मूल्य (MSP) को रहात दी थी. इससे 50 लाख केंद्रीय कर्मचारियों की उम्मीद फिर से जागी है. उम्मीद है कि उन्हें जल्द ही सातवें वेतन आयोग के तहत बढ़ी हुई सैलरी और फिटमेंट फैक्टर का फायदा मिलेगा. लेकिन, सवाल यह है कि कर्मचारियों की मांग अनुरूप यह सैलरी मिलेगी या फिर जो सिफारिशें की गई थीं, उसके मुताबिक ही सैलरी में इजाफा होगा. हालांकि, इस पर फैसला तभी होगा, जब यह सिफारिशें लागू होंगी. जानिए कब हो सकता है 7वां वेतन आयोग का ऐलान

15 अगस्त पर हो सकता है ऐलान
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, केंद्र सरकार कर्मचारियों को खुश करने के लिए 15 अगस्त यानी स्वतंत्रता दिवस पर सैलरी में इजाफे की घोषणा कर सकती है. दरअसल, अगले साल चुनाव होने हैं, इससे पहले सरकार केंद्रीय कर्मचारियों को खुश करना चाहती है. हालांकि, केंद्र सरकार पहले ही साफ कर चुकी है कि वेतन आयोग ने जो सिफारिशें दी थीं, उसके मुताबिक ही सैलरी बढ़ेगी. वहीं, केंद्रीय कर्मचारी लगातार 18000 के मुकाबले 26000 रुपए तक सैलरी बढ़ाने की मांग कर रही हैं. वहीं फिटमेंट फैक्टर में भी इजाफे की मांग की जा रही है. 

वेतन आयोग की क्या थी सिफारिश
वेतन आयोग ने केंद्रीय कर्मचारियों की सैलरी में 14.27 फीसदी की बढ़ोतरी की सिफारिश की थी. इसमें न्यूनतम सैलरी 7000 से बढ़ाकर 18000 की जानी है. हालांकि, केंद्रीय कर्मचारियों की मांग है कि उनकी सैलरी 26000 रुपए होनी चाहिए. साथ ही फिटमेंट फैक्टर भी 3.68 गुना होना चाहिए. केंद्र सरकार ने वेतन आयोग की सिफारिशों को जून 2016 में ही मंजूरी दे दी थी. लेकिन कर्मचारियों की मांग के चलते अभी तक इन्हें लागू नहीं किया गया है.

बढ़ सकती है रिटायरमेंट उम्र
सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, पीएम मोदी 15 अगस्त को केंद्र कर्मचारियों के वेतन में बढ़ोत्तरी की घोषणा कर सकते हैं. और इसके अलावा कर्मचारियों को एक और खुशखबरी मिल सकती है. पीएम मोदी कर्मचारियों के रिटायरमेंट की उम्र 60 साल से बढ़ाकर 62 सालकर सकते हैं. हालांकि, कुछ दिनों पहले ही वित्त राज्य मंत्री पी. राधाकृष्णन ने कहा था कि फिलहाल केंद्रीय कर्मचारियों की सातवें वेतन आयोग की सिफारिशों से ज्यादा सैलरी बढ़ाने की सरकार की कोई योजना नहीं है.

कितनी बढ़ सकती है सैलरी
पीएम मोदी अपने लाल किले के भाषण में कर्मचारियों की सैलरी में आयोग की तरफ से सिफारिश किए गए पेमैट्रिक्स से ज्यादा सैलरी और रिटायरमेंट उम्र बढ़ाने की घोषणा कर सकते हैं. अभी कर्मचारियों को बेसिक सैलरी में 2.57 के फिटमेंट फॉर्मूले के तहत सैलरी मिलती है. कर्मचारियों की काफी वक्त से मांग है कि उनकी बेसिक सैलरी को 26,000 कर दिया जाए, जबकि आयोग ने 18,000 तक के बेसिक पे की सिफारिश की है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

IRCTC पर टिकट बुक कराना होगा और भी महंगा, जानिए क्यों 

रेल का सफर और महंगा होने जा रहा