Home > ज़रा-हटके > गजब > जनवरी की रातों में ही पत्नी के लिये क्यों “हडकाये” हो जाते है पति, अभी जानें

जनवरी की रातों में ही पत्नी के लिये क्यों “हडकाये” हो जाते है पति, अभी जानें

साल खत्म हो रहा है. ठंड बढ़ रही है. आप न्यू ईयर रेजॉल्यूशन के बारे में सोच रहे हैं. पुराने साल के अच्छे-बुरे का हिसाब लगा रहे हैं. नए साल के गोल सेट कर रहे हैं. लेकिन कुछ लोग ऐसे हैं जो जमकर सेक्स कर रहे हैं .

सितंबर वो महीना है जब अमेरिका में सबसे ज्यादा बच्चे पैदा होते हैं. बच्चे पैदा करने के लिए पति-पत्नी के संबंध बनाने के बाद 9 महीने चाहिए. यानी दिसंबर के आखिर और जनवरी की शुरुआत, जब लोग जमकर सेक्स करते हैं .

क्रिसमस और नए साल के चलते ये वो वक्त होता है जब छुट्टियां होती हैं. ठंड होती है. रातें लंबी होती हैं . ऐसे में जोड़े एक दूसरे के ज्यादा करीब आते हैं. ऐसा हम नहीं कह रहे हैं ये एक बड़ी यूनिवर्सिटी की रिचर्स के आधार पर कहा जा रहा है. कह भी कौन रहा है? दुनियाभर में मशहूर ‘टाइम मैगजीन’. रोचक बात ये है कि पहले साइंटिस्ट्स को लगता था कि मौसम बदलता है तो शरीर की जरूरतें उसी हिसाब से बदलती हैं. इसीलिए लोग सेक्स करते हैं . लेकिन अब पता चला है कि लोग मौसम बदलने की वजह से नहीं बल्कि छुट्टियों की वजह से सेक्स में इंटरेस्टेड होते हैं .

कैसी रिसर्च से सामने आई ये बात?
130 देशों से जानकारी जुटाई गई. 2004 से 2014 के गूगल ट्रेंड्स खंगाले गए. 2010 से 2014 के बीच का ट्विटर पैटर्न देखा गया. पता चला कि क्रिसमस के दौरान सेक्स शब्द को सबसे ज्यादा सर्च किया गया. जहां ऐसा हुआ वो ऐसे देश थे जहां ज्यादा ईसाई रहते हैं. सेक्स शब्द को सदर्न हेमिस्फेयर में भी क्रिसमस के दौरान ही ज्यादा खोजा गया. सदर्न हेमिस्फेयर के देश जैसे ऑस्ट्रेलिया, अर्जेंटीना में क्रिसमस के दौरान सर्दी नहीं गर्मी पड़ती है. लेकिन सेक्स के मामले में उधर के लोग भी छुट्टियों के दौरान ही अव्वल हैं.

मुस्लिम देशों में छुट्टी का दौर आता है ईद पर. रमजान का महीना खत्म होने के बाद ईद मनाई जाती है. इस रिसर्च में पता चला है कि इस्लामिक देशों में सेक्स शब्द को ईद के दौरान सबसे ज्यादा ढूंढा जाता है. यानी इसका भी मौसम से लेना-देना नहीं है. छुट्टियों से है. अब ये मौसम वाली बात ऐसे समझिए. ईद हर साल करीब 10 दिन पहले हो जाती है. मान लीजिए इस साल रमजान का महीना 20 जून से शुरू हुआ तो अगले साल 10 जून से शुरू होगा. ऐसे में ईद के दौरान मौसम बदल जाता है. ऐसा हो सकता है कि किसी साल ईद भरी बारिश के मौसम में हुई हो और किसी दूसरे साल गर्मी में. रिसर्च बताती है कि इन देशों में भी ईद की छुट्टियों के दौरान ही सेक्स में ज्यादा रुचि देखी गई .साल के आखिर में ज्यादा सेक्स की वजह क्या है?
इस रिसर्च से जुड़े इंडियाना यूनिवर्सिटी के लोग इस ट्रेंड की कुछ वजहें बताते हैं, जो ठोस नहीं हैं. जिनका कोई वैज्ञानिक आधार नहीं है. लेकिन रिसर्च के बाद आए तथ्यों को समझकर ये इसकी दो बड़ी वजहें सामने रखते हैं.

#1. साल के आखिर में छुट्टियां होती हैं. लोग रिलैक्स होते हैं. काम की चिंता नहीं होती. लोग खुश होते हैं. इसीलिए वो अपने पार्टनर के ज्यादा करीब जाते हैं.

#2. क्रिसमस और ईद परिवार से जुड़े त्योहार हैं. इसमें रौनक घर परिवार की होती है. बच्चों में बड़ा उत्साह होता है . लोग बच्चों को तोहफे भी देते हैं. ऐसे में लोग सोचते हैं कि अब हमें भी परिवार को आगे बढ़ाना चाहिए.

तो विदेश वाले तो अच्छी छुट्टियां बिता रहे हैं. आप अपनी छुट्टियों पर ध्यान दीजिए. हैप्पी छुट्टी एंड हैप्पी न्यू ईयर .

Loading...

Check Also

एमओयू हस्ताक्षर करने वाले निवेशकों के साथ उद्योग मंत्री के साथ एक संवाद सत्र हुई बैठक

लखनऊ ब्यूरो। अवस्थापना एवं औद्योगिक विकास आयुक्त मंत्री सतीश महाना की अध्यक्षता में शुक्रवार को …

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com