7 महीने से प्रेग्नेंट छात्रा, चोरी-छिपे करा रही थी अबॉर्शन! ऐसे हुआ खुलासा

- in अपराध

तेलंगाना की राजधानी हैदराबाद में एक 19 साल की छात्रा की अबॉर्शन के दौरान मौत हो गई. लड़की पिछले 7 महीने से प्रेग्नेंट थी. घरवालों के डर की वजह से उसने अपने ब्वॉयफ्रेंड के साथ मिलकर अबॉर्शन कराने का फैसला किया. लड़की के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज पुलिस मामले की जांच कर रही है.

लापता छात्रा से गैंगरेप के बाद हुआ मर्डर, घरवालों ने लगाया आरोप

छात्रा की अबॉर्शन

मिली जानकारी के मुताबिक, मृतक संगीता (बदला हुआ नाम) इब्राहिमपटनम क्षेत्र स्थित इंजीनियरिंग कॉलेज में सेकंड ईयर की स्टूडेंट थी. लगभग एक साल पहले वह मधु (21) से मिली थी. दोनों की दोस्ती प्यार में बदल गई. कुछ समय पहले संगीता ने मधु से प्रेग्नेंट होने की बात कही.

Best news portal designing company in lucknow

घरवालों के डर से मधु ने उसे अबॉर्शन कराने के लिए कहा. इसके बाद संगीता 5 अगस्त को मैटरनिटी हॉस्पिटल गई. महिला डॉक्टर से 20 हजार रुपये में अबॉर्शन की बात तय की गई. संगीता को एक गोली दी गई और उसका अबॉर्शन कर दिया गया. इस दौरान उसकी ब्लीडिंग नहीं रुकी और वह बेहोश हो गई.

डॉक्टर ने संगीता को दूसरे हॉस्पिटल ले जाने की सलाह दी. उसे फौरन दूसरे हॉस्पिटल ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया. पुलिस ने सूचना मिलते ही शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भिजवाया. संगीता के परिजनों को जब इसका पता चला तो उनके पैरों तले जमीन खिसक गई.

संगीता के पिता ने उसके ब्वॉयफ्रेंड मधु को उसकी मौत का जिम्मेदार ठहराया. उनके मुताबिक, मधु काफी समय से संगीता के पीछे पड़ा था. उन्हें इनके बीच प्रेम-प्रसंग के बारे में नहीं पता था. संगीता के पिता की शिकायत पर पुलिस ने मधु और अबॉर्शन करने वाली डॉक्टर के खिलाफ आईपीसी की धारा 312, 314 और 417 के तहत केस दर्ज किया है. पुलिस इस मामले में उस हॉस्पिटल की भूमिका की भी जांच कर रही है, जहां संगीता का अबॉर्शन किया गया.

loading...
=>

You may also like

नहाते समय महिला को देखा साधु ने, तो हाथ पकड़कर खींच बन गया शैतान

बाबाओं के दिन ठीक नहीं चल रहें. हर