‘छपाक’ देखने पहुंची लक्ष्मी अग्रवाल की बेटी दीपिका को देख दिया ऐसा… रिएक्शन

क्ट्रेस दीपिका पादुकोण (Deepika Padukone) की फिल्म ‘छपाक’ (Chhapaak) रिलीज से पहले ही सोशल मीडिया पर जबरदस्त चर्चाओं में रही थी. वहीं रिलीज के बाद तो ये फिल्म लोगों के दिलों तक पहुंच गई. इस फिल्म को काफी पॉजिटिव रिव्यूज मिले हैं लेकिन सबसे स्पेशल रिव्यू दिया ‘छपाक’ की प्रेरणा एसिड अटैक सर्वाइवर लक्ष्मी अग्रवाल (Acid Attack Survivor Laxmi Agarwal) की प्यारी सी बेटी पीहू ने. लक्ष्मी के बेटी पीहू (Laxmi Agarwal Daughter Pihu) दीपिका पादुकोण की फिल्म देखने पहुंची. उसने पूरे धैर्य से फिल्म देखी और इसके बाद जो रिएक्शन दिया उसे देखकर लक्ष्मी भी इमोशनल हो गईं.

Loading...

लक्ष्मी अग्रवाल ने अपने लेटेस्ट इंटरव्यू में बेटी के बारे में बताया. उन्होंने मिड डे से बातचीत में कहा कि ‘मैं बहुत श्योर नहीं थी कि मेरी बेटी मेरे साथ हुई इस घटना को कैसे देखेगी. वो ज्यादातर फिल्में बीच में ही छोड़ देती है लेकिन उसने छपाक शांति से बैठकर पूरी देखी. इसके बाद उसने मुझसे एक-एक करके कई सवाल पूछे, मैंने सभी सवालों के जवाब भी दिए. इस फिल्म को देखने के बाद उसने मुझे बहुत प्यार दिखाया. उसने दीपिका को जाकर गले भी लगाया. मैं इसका एक वीडियो बनाना चाहती थी और दुनिया को दिखाना चाहती थी कि उसने अपने तरीके से इस फिल्म पर कैसा रिएक्शन दिया’.

इस इंटरव्यू में लक्ष्मी, ‘छपाक’ की डायरेक्ट मेघना गुल्जार के साथ नजर आईं. उन्होंने कहा कि ‘इस फिल्म ने ना सिर्फ हमारी अवाज को मजबूती दी है बल्कि हमारे लिए लोगों के दिलों में सम्मान भी पैदा किया है’. उन्होंने कहा कि ‘चांदनी चौक में रहने वाले लोग पुराने ख्याल के हैं और हमारे जैसे लोगों का मजाक उड़ाते हैं. लेकिन आज जब मैं वहां गई तो एक दुकानदार में मुझे अंदर बुलाया और मुझे सैल्यूट किया. इस फिल्म ने लोगों के दिलों में हमें इतनी जगह दिलाई है कि अब हम धीरे-धीरे दर्द से उबरने लगे हैं.’लक्ष्मी ने इस फिल्म के आने के बाद लोगों की सोच में आए बदलाव के बारे में खुलकर बात की और वो इससे बेहद खुश नजर आईं. बता दें कि दीपिका पादुकोण ने इस फिल्म में एसिड अटैक सर्वाइवर लक्ष्मी का किरदार निभाया है. जिन्होंने एक एसिड अटैक सर्वाइवर होते हुए एसिड की खुली बिक्री के खिलाफ कानूनी जंग लड़ी.

Loading...
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *