Home > राष्ट्रीय > चुनाव आयोग आज देगा EVM का डेमो, साथ ही करेगा ये ऐलान

चुनाव आयोग आज देगा EVM का डेमो, साथ ही करेगा ये ऐलान

चुनाव आयोग ने ईवीएम में गड़बड़ी के आरोप लगा रही राजनीतिक दलों को खुली चुनौती देने की तैयारी कर ली है. आयोग आज स्पेशल प्रोग्राम के जरिये लोगों को इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन (ईवीएम) और वीवीपैट मशीनों के काम करने के तरीके का डेमो देगा. वहीं, इसी प्रोग्राम में ईवीएम को हैक किए जाने की चुनौती की तारीखों की घोषणा भी करेगा.चुनाव आयोग ने ईवीएम में गड़बड़ी के आरोप लगा रही राजनीतिक दलों को खुली चुनौती देने की तैयारी कर ली है. आयोग आज स्पेशल प्रोग्राम के

ईवीएम की विश्वसनीयता को लेकर कई विपक्षी पार्टियां लगातार हमलावर रही हैं. ईवीएम से छेड़छाड़ की उनकी शंकाओं को दूर करने के लिए ये प्रोग्राम रखा जा रहा है. निर्वाचन आयोग की घोषणा के मुताबिक, ईवीएम और वीवीपैट की कार्यप्रणाली प्रदर्शित किए जाने के बाद एक प्रेस कॉन्फ्रेंस भी बुलाई जाएगी.

29 मई के बाद दी जा सकती है चुनौती

मुख्य चुनाव आयुक्त नसीम जैदी ने बीती 12 मई को इस मुद्दे पर बुलाई सर्वदलीय बैठक के बाद ईवीएम में गड़बड़ी किए जा सकने के दावे को सही साबित करने की चुनौती देने की घोषणा की थी. आयोग के एक सीनियर ऑफिसर ने बताया कि राजनीतिक दलों को 29 मई के बाद जून के पहले हफ्ते में कभी भी ईवीएम में गड़बड़ी करने की चुनौती दी जा सकती है.

ये भी पढ़े: रेल हादसों से बचाने के नाम पर भी आपसे पैसा वसूलेगी मोदी सरकार…

अधिकारी ने बताया कि आयोग द्वारा सभी सात राष्ट्रीय दल और 48 राज्य स्तरीय दलों को खुली चुनौती में हिस्सा लेने के लिए बुलाया जाएगा. इसके लिए आयोग चुनौती में शामिल होने के इच्छुक दल को हाल ही में सम्पन्न हुए पांच राज्यों के विधानसभा चुनाव के किसी भी मतदान केंद्र की मशीन के साथ छेड़छाड़ करने का ऑप्शन चुनने के लिए एक हफ्ते का समय भी देगा. वहीं, चुनौती स्वीकार करने वाले हर राजनीतिक दल को मशीन में गड़बड़ी करने का अपना दावा सही साबित करने के लिए अलग-अलग मौका दिया जाएगा.

आप ने दिया था ‘हैकाथन’ पर जोर दिया

चुनाव आयोग के अधिकारी के मुताबिक, सुप्रीम कोर्ट ने आयोग को 2019 के लोकसभा चुनाव से पहले वीवीपैट वाले ईवीएम से वोटिंग कराने की तैयारी करने का आदेश दिया था. इस आदेश के पालन को सुनिश्चित करने के लिए आयोग ने लोकसभा चुनाव से पहले ही इस साल के अंत में होने वाले गुजरात और हिमाचल प्रदेश के विधानसभा चुनाव में भी वीवीपैट युक्त ईवीएम से चुनाव कराने की तैयारी कर ली है. दरअसल वीवीपैट मशीन से एक पर्ची निकलती है, जिससे मतदाता को मालूम पड़ता है कि उसने जिस उम्मीदवार के पक्ष में ईवीएम का

बटन दबाया, उसका वोट उसी को गया.

इससे पहले बहुजन समाज पार्टी (बसपा), कांग्रेस, आम आदमी पार्टी (AAP) तथा तृणमूल कांग्रेस ने सर्वदलीय बैठक के दौरान ईवीएम में धांधली पर चिंता जताई थी. AAP ने निर्वाचन आयोग के ईवीएम को हैक कर दिखाने की चुनौती को स्वीकारने का स्वागत किया है, लेकिन ‘हैकाथन’ पर जोर दिया. पार्टी ने कहा कि मौका मिलने पर वह साबित करके दिखा देगा कि मशीनों को हैक किया जा सकता है.

Loading...

Check Also

तमिलनाडु में आये गाजा तूफान से हुई 13 लोगो की मौत, पीएम मोदी ने जताया शोक

भीषण चक्रवातीय तूफान ‘गाजा’ नागपट्टिनम से गुजरा जिसके बाद बड़ी संख्या में पेड़ों के गिरने तथा …

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com