चीन के दो लड़ाकू विमानों ने अमेरिका की नौसेना विमान को बाधा पहुंचाई

चीन के दो लड़ाकू विमानों ने अमेरिका की नौसेना की निगरानी करने वाले विमान को दक्षिण चीन सागर में बाधा पहुंचाई। अमेरिकी रक्षा विभाग पेंटागन ने यह जानकारी दी है। पेंटागन ने कहा कि एक सप्ताह में यह दूसरी बार है जब चीन के विमान ने इस तरह का उल्लंघन किया है। अधिकारी के अनुसार अमेरिकी पी-3 ओरियान निगरानी विमान दक्षिण चीन सागर में हांगकांग से 150 मील दूर इंटरनेशन एयरस्पेस में उड़ान में था। इस दौरान चीन के विमानों ने बाधा पहुंचाई। रक्षा अधिकारी ने कहा कि चीन का जे-10 लड़ाकू विमान अमेरिकी विमान से महज 200 यार्ड की दूरी में 100 फीट की उड़ान पर था।
चीन के दो लड़ाकू विमानों ने अमेरिका की नौसेना विमान को बाधा पहुंचाई
 
दूसरा चीनी लड़ाकू विमान पी-3 के 750 यार्ड के दायरे में था। अधिकारियों ने इस तरह की उड़ानों पर और अधिक जानकारी देने से इनकार किया। नेवी कमांडर गैरी रॉस ने कहा कि अमेरिकी पी-3‌ विमान इंटरनेशनल स्पेस में उड़ रहा था। उन्होंने कहा कि अमेरिका इसे गंभीरता से लेते हुए इस पर चीन के अधिकारियों से बात करेगा।  

ये भी पढ़े: सेना के शिविर पर हुआ तालबानी का हमला, 15 अफगान सैनिकों की मौत

उल्लेखनीय है कि दक्षिण चीन सागर पर अधिकार को लेकर चीन और अमेरिका के बीच विवाद है। चीन को अपने क्षेत्र में अमेरिकी अतिक्रमण की आशंका है। अमेरिका ने हालांकि इस तरह के अतिक्रमण से इनकार किया है। 

You may also like

चीन का कर्ज बढ़कर 2,580 अरब डॉलर हुआ

चीन का बढ़ता कर्ज अब 2,580 अरब डॉलर