Home > जीवनशैली > खाना -खजाना > चलिए बनायें सावन में तीज और राखी की खास डिश घेवर

चलिए बनायें सावन में तीज और राखी की खास डिश घेवर

चलिए बनायें सावन में तीज और राखी की खास डिश घेवरकितने लोगों के लिए : 4

सामग्री :

मैदा – 250 ग्राम

घी – 50 ग्राम देशी घी हो तो अच्‍छा है।

दूध – 50 ग्राम

पानी – 800 ग्राम या 4 कप

घी या तेल – घेवर तलने के लिये

चाशनी के लिए

चीनी – 400 ग्राम

पानी – 200 ग्राम या 1 कप

विधि :

मैदा छान कर किसी बर्तन में रख लीजिये। अब घी को किसी बड़े बर्तन में डाल कर उसमें बर्फ के टुकड़े डालकर हाथ से फेटिये। तब तक फेंटते रहिए जब तक घी क्रीम जैसा ना बन जाए। अब बर्फ के टुकड़े निकाल दीजिये और घी को एक दम चिकनी क्रीम बनने तक फेटते रहिए। इसके बाद इस क्रीम में मैदा थोड़ी थोड़ी डाल कर फेटते जाइये। मिश्रण गाढ़ा होने पर दूध मिला दीजिये और थोड़ा थोड़ा पानी डाल कर खूब फेंटिये।, सारी मैदा डालकर अच्छी तरह मिलाइये और फेट कर चिकना गाढ़ा बैटर बना लीजिये। अब इस बैटर में थोड़ा थोड़ा करके इतना पानी डालिये कि इतना पतला हो जाए कि चमचे से घोल गिराने पर पतली धार से गिरे और घोल एकदम चिकना हो उसमें कोई गुठली न रहे।

ये भी पढ़े: अभी अभी: अमित शाह के लखनऊ पहुंचते ही अखिलेश को लगा करारा झटका! दो मुस्लिम एमएलसी ने दिया इस्तीफा! बीजेपी में होंगें शामिल!

अब कढ़ाई में करीब आधा से कम ऊंचाई तक घी भर कर गरम कीजिये। घी इतना गरम हो कि मैदा की कोई भी बूंद घी में गिरे तो वह तुरन्त ऊपर उठकर तैरने लगे। अब मैदा का घोल किसी चमचे में भर कर बहुत ही पतली धार से इस गरम घी में डालिये, घोल डालने पर घी से झाग ऊपर उठते दिखाई देने लगते हैं। दूसरा चमचा घोल डालने के लिये 1-2 मिनट रुकिये, ताकि झाग खतम हो जायें। अब फिर से दूसरा चमचा घोल भरकर बिलकुल पतली धार से घी में डालिये। इसी तरह आप जितना बड़ा घेवर बनाना चाहते हैं उसके हिसाब से उतनी बार घोल आप भगोने में डालेंगे, घोल को भगोने के बीच में डाला जाता है, यह घोल नीचे तले में जाता और तैर कर वापस ऊपर आता है और पहली परत के ऊपर पहुंच कर परत बनाता है। यदि घेवर में बीच में जगह न रहे तो चमचे की पतली डंडी से बीच से घोल हटाकर थोड़ी जगह बना दें। इसी जगह से घोल को डालते रहिये जब तक सही आकार में घेवर ना बने।

जब आपको लगे कि इतना बड़ा घेवर सही है तब गैस को मीडियम कर दीजिये और हल्‍का गोल्‍डन ब्राउन ब्राउन होने तक सिकने दीजिये। अब घेवर को किसी लकड़ी या स्टील की पतली छड़, या कलछी को उलटा पकड़ कर उसे छेद में अटका कर एक कगरदार गहरी थाली में तिरछा रखिए। ताकि घेवर से निकला अतिरिक्‍त घी निकल कर उस थाली में इकठ्ठा हो जाय। इसी तरह सारे घेवर तल कर निकाल लीजिये।

अब 2 तार की चीनी की चाशनी बनायें इसके लिए एक भगोने में चीनी में 1 कप पानी डाल कर गैस पर रखिये। उबाल आने के बाद 5-6 मिनट तक पकाइये। इसके बाद चाशनी को चम्मच से लेकर एक बूंद किसी प्लेट में गिराइये और हल्‍का ठंडा होने पर उंगली और अंगूठे के बीच चिपका कर देखिये। अगर वह उंगली और अंगूठे के बीच चिपक के और 2 तार बनें तो समझिए चाशनी तैयार है।

चाशनी को छूने लायक ठंडा कीजिये और एक थाली लीजिये, थाली के ऊपर एक प्याली रख लीजिये, एक घेवर लेकर प्याली के ऊपर रखिये और चाशनी को चमचे से घेवर के ऊपर फैला कर डालिये। तैयार घेवरों को हवा में 1 घंटे सूखने दीजिये।, आपके घेवर तैयार हैं इन पर रबड़ी और कतरे हुये सूखे मेवे लगाकर सर्व कीजिए।

ध्‍यान रहे कि सामान्य घेवर को तो 2 सप्ताह तक भी रख सकते है लेकिन रबड़ी की टॉपिग लगे घेवर को आप ज्‍यादा से ज्‍यादा 2 दिन तक फ्रिज में रख कर खा सकते हैं। इसलिए बेहतर होगा कि रबड़ी की टापिंग उतने ही घेवर में करें जितने खाने हों।

Loading...

Check Also

स्वाद और सेहत से भरपूर पनीर वेजिटेबल पराठे...

स्वाद और सेहत से भरपूर पनीर वेजिटेबल पराठे…

कितने लोगों के लिए : 4 सामग्री : आटे के लिए-गेहूं का आटा3/4 कप, गेहूं का …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com