Home > अपराध > घरेलू हिंसा के खिलाफ आवाज़ उठाई तो पति ने प्राइवेट पार्ट में डाल दी आपत्तिजनक वस्तु

घरेलू हिंसा के खिलाफ आवाज़ उठाई तो पति ने प्राइवेट पार्ट में डाल दी आपत्तिजनक वस्तु

मुरादाबाद में बेहद शर्मनाक और आपत्तिजनक मामला सामने आया है। यहां एक महिला ने पति द्वारा किए जा रहे जुल्म के खिलाफ आवाज उठाई तो उसने इंसानियत की सारी हदें पार कर दी। पति की प्रताड़ना से पीड़िता को जब हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया तो आरोपी अपने कुछ दोस्तों को लेकर वहां भी पहुंच गया और पीड़िता और उसके परिजनों के साथ मारपीट की। इतना ही नहीं उसने महिला से थाने से शिकायत वापस न लेने जान से मारने की भी धमकी दी और पीटना शुरू कर दिया।घरेलू हिंसा के खिलाफ आवाज़ उठाई तो पति ने प्राइवेट पार्ट में डाल दी आपत्तिजनक वस्तु

जानकारी के मुताबिक संभल के कोर्ट पूर्वी में रहने वाले स्वर्गीय राम चंद्र सक्सेना (काल्पनिक नाम) चंदौसी में बिजली विभाग में जेई के पद पर तैनात थे। उन्होंने अपनी बेटी सुमन (काल्पनिक नाम) की शादी 19 साल पहले मुरादाबाद के नागफनी थाने के डिप्टी गंज के रहने वाले गौरव सक्सेना से शादी की थी। गौरव सरकारी प्राइमरी स्कूल में अध्यापक है। सुमन का कहना है कि शादी के बाद से गौरव ने उसको किसी ना किसी बात पर पीटना शुरू कर दिया था। मैंने कभी मायके वालों को नहीं बताया कि शायद कुछ दिनों में सुधर जाएंगे। दो बेटे राहुल और करण के होने के बाद भी मारना पीटना बंद नहीं किया।

पीड़ित महिला ने बताया कि 3 दिन पहले गौरव ने उसे पूरे दिन कमरे में बंद रख उसके साथ मारपीट की और विरोध करने पर उसके प्राइवेट पार्ट में आपत्तिजनक वस्तु डाली। पीड़िता ने बताया कि बच्चों से उस दिन की मेरी यह हालत देखी नहीं गई। पति के घर से जाने के बाद बच्चों ने मेरा हौसला बढ़ाया की मां बहुत हो गया अब हमसे भी यह नहीं देखा जाता तुम यहां से चली जाओ और पापा के खिलाफ कार्यवाही करो। तब में घर से भाग कर अपने तहेरे भाई राजीव के यह आ गई और आप बीती सुनाई। तब मेरे बाकी परिजन भी आ गए।

यह भी पढ़े: खुशखबरी: 10वीं पास लोगो के लिए सरकारी नौकरी की निकली बम्पर भर्ती, तुरंत करें अप्लाई

बीती शाम महिला थाने में जा कर पीड़िता ने अपनी शिकायत दर्ज कराई। पुलिस ने मेडिकल के लिए जिला अस्पताल में भेजा जहां फिर आरोपी ने अपने 2 दोस्तों के साथ उसे और उसके परिजनों को पीटने की कोशिश की व तहरीर वापस ना लेने के लिए दबाव बनाया। पीड़िता का कहना है कि तहरीर वापस ना लेने पर मेरे भाई और मुझको जान से मारने की धमकी दी।

वहीं पुलिस महिला थाना इन्स्पेक्टर ने बताया कि पीड़ित महिला तहरीर ले कर थाना आई थी और पति द्वारा मारपीट और अप्रकृतिक सम्बन्ध बनाने का प्रयास किया। इसका विरोध करने पर आरोपी ने पीड़िता के प्राइवेट पार्ट में आपत्तिजनक वस्तु डाली। जिस पर महिला का मेडिकल कराया गया है। जांच के बाद कार्यवाही की जाएगी।

Loading...

Check Also

दिल्ली में 3 साल की मासूम बनी हैवानियत का शिकार

16 दिसंबर को ही निर्भया की छठी बरसी थी और उसी दिन दिल्ली के द्वारका …

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com