ग्रेजुएट हैं तो आप भी पा सकते हैं डिप्टी तहसीलदार की सरकारी नौकरी, ऐसे करे आवेदन

डिप्टी तहसीलदार का पद आमतौर पर विभिन्न राज्य सरकारों के राजस्व विभाग में तहसील या तालुका स्तर पर होता है. डिप्टी तहसीलदार डिप्टी तहसीलदार का पद ग्रुप-2 (गजटेड) में आता है. कुछ राज्यों में नायब तहसीलदार और कुछ राज्यों में डिप्टी तहसीलदार के पदों पर सीधी भर्ती की जाती है.

Loading...

डिप्टी तहसीलदार का पद आमतौर पर विभिन्न राज्य सरकारों के राजस्व विभाग में तहसील या तालुका स्तर पर होता है. डिप्टी तहसीलदार डिप्टी तहसीलदार का पद ग्रुप-2 (गजटेड) में आता है. कुछ राज्यों में नायब तहसीलदार और कुछ राज्यों में डिप्टी तहसीलदार के पदों पर सीधी भर्ती की जाती है. इस पद के लिए उम्मीदवारों का चयन सम्बन्धित राज्य के लोक सेवा आयोग द्वारा राज्य सिविल सेवा परीक्षा सीधी भर्ती के तौर पर किया जाता है. इन संगठनों द्वारा भर्ती प्रक्रिया का आयोजन समय-समय पर रिक्तियों के अनुसार किया जाता है.

डिप्टी तहसीलदार के कार्यों में तैनाती के तहसील सभी प्रकार के प्रशासनिक कार्यों को अपने अधीनस्थ कर्मचारियों की मदद करना, विभिन्न राजस्व मदों के अनुसार संग्रहण करना, राजस्व लेखों दुरूस्त रखना, सब-डिविजिनल ऑफिसर को रिपोर्ट देना और विभिन्न अधिकारियों के साथ बैठकें करना, ग्राम सभाओं में राज्य सरकार के पक्ष को प्रस्तुत करना, तहसील में लैंड मैनेजमेंट कमेटी की देख-रेख करना, कलेक्टर एवं अन्य वरिष्ठ अधिकारियों के निर्देशों के अनुसार कार्य करना, विभिन्न प्रकार पंजीकरण एवं प्रमाण पत्र जारी करना, आदि शामिल हैं.

डिप्टी तहसीलदार के लिए कितनी होनी चाहिए योग्यता?

डिप्टी तहसीलदार बनने के लिए जरूरी है कि उम्मीदवार को किसी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय या संस्थान से किसी भी विषय में स्नातक या समकक्ष योग्यता उत्तीर्ण होना चाहिए. इसके साथ ही, उम्मीदवारों को सम्बन्धित राज्य की आधिकारिक क्षेत्रीय भाषा का ज्ञान होना चाहिए.

डिप्टी तहसीलदार के लिए कितनी है आयु सीमा?

डिप्टी तहसीलदार बनने के लिए जरूरी है कि उम्मीदवार की आयु 18 वर्ष से 42 वर्ष के बीच हो. कुछ राज्यों में अधिकतम आयु सीमा 36 वर्ष ही हो सकती है. आरक्षित श्रेणी के उम्मीदवारों को अधिकतम आयु सीमा सरकार के नियमानुसार छूट दी जाती है.

डिप्टी तहसीलदार के लिए चयन प्रक्रिया

डिप्टी तहसीलदार के पद पर उम्मीदवारों का चयन आमतौर पर शैक्षणिक रिकॉर्ड, लिखित परीक्षा – प्रारंभिक (ऑब्जेक्टिव टाइप एवं मल्टीपल च्वाइस), मुख्य परीक्षा और इंटरव्यू (पर्सनॉलिटी टेस्ट) के आधार पर किया जाता है. प्रारंभिक परीक्षा में आमतौर पर जनरल स्टडीज, मेंटल एबिलिटी, राज्य की सोशल एवं कल्चरल हिस्ट्री, प्लानिंग एवं इकनॉमी से प्रश्न पूछे जाते हैं. वहीं मुख्य परीक्षा में जनरल स्टडीज, मेंटल एबिलिटी के साथ-साथ राज्य की हिस्ट्री, सोशल एवं कल्चरल विकास, भारतीय संविधान, भारतीय अर्थव्यवस्था, आदि से सम्बन्धित प्रश्न पूछे जाते हैं.

कितनी मिलती है डिप्टी तहसीलदार को सैलरी?

डिप्टी तहसीलदार के पद पर मूल वेतन रु.28,940/- से रु.78,910/- के अनुरूप सैलरी दी जाती है. इसके अतिरिक्त विभिन्न प्रकार के भत्ते (डीए, एचआरए, आदि) देय होते हैं. वहीं, अलग-अलग राज्यों में डिप्टी तहसीलदार के पद पर वहां निर्धारित व लागू वेतनमान के अनुसार सैलरी दी जाती है.

डिप्टी तहसीलदार को कहां मिलेगी सरकारी नौकरी?

डिप्टी तहसीलदार का पद आमतौर पर विभिन्न राज्य सरकारों के राजस्व विभाग में जिला स्तर पर होता है. ज्यादातर मामलों में डिप्टी तहसीलदार के पद पर उम्मीदवारों का चयन सम्बन्धित राज्य के लोक सेवा आयोग द्वारा राज्य सिविल सेवा परीक्षा सीधी भर्ती के तौर पर किया जाता है. इन संगठनों द्वारा भर्ती प्रक्रिया का आयोजन विज्ञापनों द्वारा समय-समय पर रिक्तियों के अनुसार किया जाता है. इन विज्ञापनों के बारे में भारत सरकार के प्रकाशन विभाग से प्रकाशित होने वाले रोजगार समाचार, दैनिक समाचार पत्रों एवं सरकारी नौकरी की जानकारी देने वाले पोर्टल्स या मोबाइल अप्लीकेशन के माध्यम से अपडेट रहा जा सकता है.

Loading...
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com