Home > वायरल > गैस कैशियर श्याम सिंह की हत्या के खुलासे के करीब पुलिस

गैस कैशियर श्याम सिंह की हत्या के खुलासे के करीब पुलिस

लखनऊ । विभूतिखण्ड थानाक्षेत्र में गैस कैशियर श्याम सिंह की हत्या के खुलासे के करीब पुलिस पहुंच चुकी है। पुलिस ने शनिवार को एक हत्यारोपी को गिरफ्तार किया है। पुलिस इस केस से जुड़े सभी तथ्यों को मीडिया के सामने प्रस्तूत कर इसका खुलासा करेगी। पुलिस के मुताबिक बीते अक्टूबर माह में गोमतीनगर स्थित विभूतिखण्ड में बैंक ऑफ बड़ौदा के पास मोटर साइकिल सवार बदमाशों ने दिनदहाड़े बिहारी गैस सर्विस के कैशियर श्याम सिंह की गोली मारकर 10 लाख रुपये रुपये लूटे थे। इस मामले में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने लखनऊ पुलिस को कड़ी फटकार लगाई थी।
इसके बाद वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक लखनऊ कलानिधि नैथानी ने इस घटना के खुलासे के लिए क्राइम ब्रांच, सर्विलांस समेत 12 थाना पुलिस टीम को लगाया था। एसएसपी ने शनिवार को बताया कि पुलिस टीम के हाथ कैशियर की हत्या से जुड़े कुछ साक्ष्य हाथ लगे हैं। एक हत्यारोपी को गिरफ्तार किया गया है। पूछताछ की जा रही है, जल्द ही घटना का पूरा खुलासा किया जाएगा।
गौरतलब हो कि बाइक सवार नकाबपोश बदमाशों ने कुछ दिन पूर्व ही दिनदहाड़े एचपी गैस एजेंसी का कैशियर से विभूति खंड में लूटपाट की थी। विरोध करने पर बैंक के कैशियर की गोली मार दी और करीब दस लाख रुपये लूटकर फरार हो गए थे। बेखौफ बदमाशों ने जाते-जाते इलाके में दहशत फैला डाली थी। घायल कैशियर को आनन-फानन में हॉस्पिटल पहुंचाया गया है लेकिन वहां उसकी मौत हो गई थी।
इसके बाद वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक कलानिधि नैथानी ने सोमवार सुबह विभूतिखण्ड थानाक्षेत्र में गैस एजेंसी कैशियर की हत्या कर दस लाख के लूटकांड का खुलासा करने के लिए 12 टीमों को गठन किया था। चार टीमें जनपद एवं सीमाओं के जनपदों में राष्ट्र्रीय राजमार्गों पर स्थापित टोल प्लाजा में लगे सीसीटीवी फुटैज की जांच कर रही थी। जबकि तीन टीमें घटनास्थलों के आसपास जनपदों के विभिन्न स्थानों पर लगे सीसीटीवी कैमरे चेक कर संदिग्धों की पहचान करने में जुटी थी। इसके अतिरिक्त जनपद व स्वॉट टीम व सर्विलांस टीमों को सक्रिय कर दिया गया थी। वहीं, पांच टीमें जेल से छूटे अपराधियों व वांछितों पर नजर रखी जा रही थी। कैशियर की हत्या व लूटकाण्ड का खुलासा करने के लिए पुलिस अधीक्षक नगर उत्तरी के नेतृत्व में 12 टीमों को लगाया गया था। एसएसपी के अनुसार 12 टीमों को अलग-अलग बांटकर सभी को विभिन्न काम दिया गया था। अपराधी की सटीक सूचना देने वाले को 50000 रुपये का नगद इनाम की बात देने की बात कही जा रही थी।

Loading...

Check Also

जब कैमरे के सामने लाइव फांसी पर झूल गई ये लडकी, वीडियो देख हो जाओगे बेहोश…

सोशल मीडिया में आए दिन कोई न कोई वीडियो वायरल ही होते रहता है और …

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com