गांव-गांव घूमकर लोगों को सम्राट सिकंदर की अर्थी दिखा कर दे रहे संदेश, मत करो भ्रष्टाचार

भ्रष्टाचार नहीं करने का संदेश देने के लिए हरदा जिले के नजदीकी गांव देवतालाब के सेवाराम बछानिया ने अनूठी मुहिम शुरू की है। वे गांव-गांव घूमकर लोगों को सम्राट सिकंदर की अर्थी (प्रतीकात्मक) दिखाकर संदेश दे रहे हैं कि विश्व विजेता बनने निकला सम्राट सिकंदर जब दुनिया से गया तो खाली हाथ था, इसलिए भ्रष्टाचार छोड़ें। उन्होंने लोगों को मुहिम से जोड़ने के लिए ‘भारत संसार सार मंथन’ संगठन बनाया है। सेवाराम ने यह मुहिम दो अक्टूबर से शुरू की है। वे एक रूपए शुल्क लेकर लोगों को उनके संगठन का सदस्य बना रहे हैं।

Loading...

धन, वैभव मौत को नहीं टाल सकते सेवाराम ने बाइक के पीछे छोटी ट्रॉली में सिकंदर की ‘अर्थी’ रखी है, जिसमें पुतले के दोनों हाथ खुले व खाली हैं। वे सिकंदर का वह संदेश लोगों को बता रहे हैं, जिसमें उसने मंत्रियों से कहा था कि मैंने दुनिया पर विजय प्राप्त की, लेकिन इतना धन, वैभव और नाम मेरी मौत को नहीं टाल सकते। मेरे दोनों हाथ ताबूत (अर्थी) से बाहर निकालकर रखें, ताकि लोगों को संदेश मिले कि सम्राट दुनिया से खाली हाथ गया।

भ्रष्टाचार मुक्त जिला बनाने का संकल्प सेवाराम ने बताया कि वे जिले को भ्रष्टाचार मुक्त जिला देखना चाहते हैं। इसके लिए उन्होंने भारत संसार सार मंथन संगठन बनाया है। इसकी सदस्यता दिलाने के लिए वे गांव-गांव का भ्रमण कर रहे हैं। वे अपनी मोटर साइकिल के पीछे बनी ट्राली में सिकंडर का जनाजा लेकर पहुंच रहे हैं। उन्होंने बताया कि यह लोगों को आकर्षित करने का एक अलग तरीका है। वरना वे गांव में बाइक से जाते तो लोग उनसे बात करने में संकोच करते। लेकिन अब लोग खुद उनके पास आकर पूछते हैं- ये क्या। इसके बारे में बताईये। इसके बाद वे जानकारी देकर अपने संगठन की सदस्यता के फार्म भी वितरित कर रहे हैं। लोग भी उनके इस अनूठे अंदाज को काफी पसंद करते हैं और रास्ते में रोककर उनसे बात करते हैं।

Loading...
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *