सौरव गांगुली ने टीम इंडिया के सीनियर्स पर लटकाई तलवार

- in खेल

टीम इंडिया के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली ने उम्मीद जताई है कि कुलदीप यादव को इंग्लैंड दौरे पर अपना टेस्ट करियर आगे बढ़ाने का मौका जरूर मिलेगा। टीम इंडिया जून में इंग्लैंड दौरे पर जाएगी और अगस्त में टेस्ट सीरीज की शुरुआत होगी। गांगुली फिलहाल ‘चाइनामैन’ से इतने प्रभावित हैं कि उन्होंने अनुभवी रविचंद्रन अश्विन व रविंद्र जडेजा से भी बेहतर कुलदीप को करार दिया।
सौरव गांगुली ने टीम इंडिया के सीनियर्स पर लटकाई तलवार

45 वर्षीय गांगुली ने टीम प्रबंधन की भी तारीफ की क्योंकि उन्होंने सीमित ओवर प्रारूप में रिस्ट स्पिनर्स को मौका दिया। गांगुली ने इंडिया टुडे से बातचीत में कहा, ‘मुझे पता है कि इंग्लैंड में कुलदीप टेस्ट मैच खेलेगा। मैं ऐसा होते हुए देख सकता हूं। अश्विन और जडेजा के लिए मुश्किल होगी। अश्विन के लिए ज्यादा मुश्किल होगी क्योंकि टेस्ट में उनका रिकॉर्ड बेहतरीन है। मुझे भरोसा है कि अश्विन दौरे पर कमाल करेंगे, लेकिन वो खेले या ना खेले, हमें यह देखना होगा कि वह इंग्लैंड कब जाएंगे।’

टीम इंडिया के पूर्व कप्तान ने आगे कहा, ‘वर्ल्ड क्रिकेट में रिस्ट स्पिनर्स काफी सफल रहे हैं। शेन वॉर्न को देखिए। मैं कुलदीप और चहल की तुलना वॉर्न से नहीं करता क्योंकि ऑस्ट्रेलियाई स्पिनर निश्चित ही चैंपियन थे। मेरे ख्याल से कुलदीप और चहल सही दिशा में आगे बढ़ रहे हैं।’

इंग्लैंड में पिच समय के साथ सूखती जाती है, जिससे स्पिनर्स के पास बाजी मारने का मौका होता है। ऐसे में टेस्ट सीरीज के दौरान टीम इंडिया के स्पिनर्स हावी होने की अहम भूमिका निभा सकते हैं। कुलदीप और युजवेंद्र चहल ने सीमित ओवर क्रिकेट में शानदार प्रदर्शन किया और अश्विन व जडेजा की वन-डे और टी20 इंटरनेशनल टीम से छुट्टी कर दी।

बहरहाल, अश्विन को इंग्लैंड में अनुभव के आधार पर प्राथमिकता से मौका मिल सकता है। मगर कुलदीप ने अगर सीमित ओवर मुकाबलों में बेहतरीन प्रदर्शन किया तो उन्हें टेस्ट सीरीज में भी बरकरार रखा जा सकता है। अब यह देखना रोचक होगा कि गांगुली का सपोर्ट सचमुच कुलदीप यादव के लिए रंग लाएगा।

You may also like

कराटे खिलाड़ियों ने उत्तीर्ण की ब्लैक बेल्ट परीक्षा

लखनऊ। जापान सोतो कान कराटे डू कनिंजुकु ऑर्गनाइजेशन के