गर्मियों में सादा पानी पीने से नहीं चलेगा काम, रखना होगा इन 10 बातों का ख्याल

vegetable-juices-ndtv_650x364_61430316450-300x168अक्‍सर जब भी फिटनेस की बात आती है, तो हम चीजों को हद से ज्यादा कॉम्प्लीकेट कर देते हैं। कभी क्रैश डाइटिंग, तो कभी क्षमता से ज्यादा वर्जिश करने का सिलसिला शुरू हो जाता है। यहां तक कि लोग अपनी मनपसंद डिश से भी मुंह मोड़ लेते हैं। नतीजतन, हम कुछ ही हफ्तों में बोर होकर अपना डायट प्लान फॉलो करना और रेगुलर एक्सरसाइज करना छोड़ देते हैं। इसका उल्टा असर हमारे शरीर पर पड़ता है।

इन सबसे निजात पाने का एक ही फॉर्मूला है, और वो है हर दिन 30 मिनट व्यायाम और दिन में कम से कम 8-12 ग्लास पानी पीना।

शरीर के लिए क्यों जरूरी है पानी?

मसल क्रैंपिंग नहीं होती: हमारे शरीर का 70 फीसदी हिस्सा पानी है। इसलिए इस लेवल को बरकरार रखने के लिए हमें खान-पान में तरल चीजों को तरजीह देनी चाहिए वर्ना मसल क्रैंपिग की परेशानी हो सकती है।

दुरुस्त ब्लड सर्कुलेशन: पानी में ऑक्सीजन होता है जो ब्लड सर्कुलेशन में मदद करता है। साथ ही लगातार खून और ऑक्सीजन मिलते रहने से दिमाग भी एक्टिव रहता है। इसलिए दफ्तर में या पढ़ाई करते वक्त बीच बीच में पानी जरूर पीते रहना चाहिए।

बॉडी टेंप्रेचर मेंटेन रहता है: वर्कआउट या भाग दौड़ करने से शरीर से ज्यादा पसीना निकलता है। इसलिए जरूरी है कि हम उसी अनुपात में पानी भी पीते रहें।

शरीर की अंदरूनी सफाई: शरीर की अंदरूनी गंदगी पसीना और मल-मूत्र के जरिए बाहर निकलती है। इसलिए कोशिश करनी चाहिए की हम ज्यादा से ज्यादा पानी पीते रहें।

हालांकि शरीर को हाइड्रेट रखने के लिए केवल सादा पानी पीना काफी नहीं होगा। लिक्विड इंटेक से जुड़ी इन10 बातों का ख्याल रखना भी जरूरी है…

 

1.गर्मियों में लू को मात देनी है तो ज्यादा से ज्यादा तरल पदार्थ पर जोर दें। सादे पानी के साथ साथ छाछ, जूस, वेजिटेबल सूप, लो फैट मिल्क भी पीएं। ऐसा करने से आपके शरीर की पानी की जरूरत तो पूरी होगी ही, उसे पोषण भी मिलेगा। साथ ही अलग अलग स्वाद से आपको भी बोरियत महसूस नहीं होगी।

2.खाना खाने के 30 मिनट पहले एक ग्लास पानी जरूर पीएं। इससे पाचन शक्ति मजबूत होगी।

3.खाना खाने के 30 मिनट बाद तक पाना न पीएं क्योंकि खाना को पचाने के लिए गैस्ट्रिक एसिड की जरूरत होती है। लेकिन पानी पीने से ये डाइल्यूट हो जाते हैं जिसके चलते खाना पचाने में शरीर को परेशानी होती है।


4.रात में तांबे के बर्तन में दो ग्लास पानी में 3-5 नीम के पत्ते भिगोकर रख दें। सुबह इस पानी को छानकर खाली पेट पीएं।

5. नहाने और सोने से पहले एक ग्लास पानी पीएं। इससे बल्ड प्रेशर और स्ट्रोक्स का खतरा कम होता है।

6.हर आधे घंटे पर कुछ ना कुछ लिक्विड जरूर पीएं। लेकिन सॉफ्ट ड्रिंक्स और शराब से परहेज करें क्योंकि इसमें मौजूद केमिकल और प्रेजरवेटिव आपके शरीर के लिए हानिकारक होते हैं।


7. चाय, कॉफी पीने से पहले एक ग्लास पानी जरूर पीएं। इससे आपको गैस की समस्या नहीं होगी।

8.चाय, कॉफी पीने के बाद भी पानी पीएं क्योंकि इससे ना सिर्फ आपके दांतों को इन पेय पदार्थों में मौजूद शक्कर से होने वाले नुकसान से छुटकारा मिलेगा, बल्कि शरीर भी हाइड्रेटेड रहेगा। हालांकि इन्हें पीने से 15-20 मिनट बाद ही पानी पीएं वर्ना गर्म पेय के बाद ठंडा पानी पीने से दांत कमजोर हो सकते हैं।

9. वॉशरूम से आने के बाद एक ग्लास पानी जरूर पीएं। शरीर का वॉटर लेवल मेंटेन रहता है।

10.खाने में खीरा, लौकी, तरबूज, दही, पपीता को तरजीह दें। इनमें पानी की मात्रा ज्यादा होती है।

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button