गंभीर बीमारियों से ग्रस्त लोग अपने स्वास्थ्य का विशेष ध्यान रखें

प्रमुख संवाददाता
स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार पिछले 24 घंटे में देश में कोरोना के 92 नये मरीज़ सामने आये हैं। स्वास्थ्य सचिव ने कहा है कि जो लोग हार्ट, किडनी या अन्य गंभीर बीमारियों के मरीज़ हैं। उन्हें सोशल डिस्टेंस का ख़ास ध्यान देना होगा क्योंकि उनकी प्रतिरोधक क्षमता स्वस्थ्य लोगों की अपेक्षा कमज़ोर होती है और उनके संक्रमित होने का खतरा ज्यादा होता है।
उन्होंने बताया कि स्वास्थ्य मंत्रालय लगातार सभी राज्यों से सम्पर्क बनाए हुए है। इस वायरस को लेकर लोगों को जागरूक किये जाने की ज़रुरत है। कोरोना वायरस को लेकर अफवाहें फैलाने की ज़रुरत नहीं है। स्वास्थ्य सचिव ने कहा है कि किसी भी व्यक्ति को इस बीमारी के बारे में कोई संदेह है तो वह तुरंत डाक्टर से सम्पर्क करे। यह ठीक हो जाने वाली बीमारी है. जितनी जल्दी जानकारी हो जायेगी। मरीज़ उतनी जल्दी ठीक हो जायेगी।
गृह विभाग की अधिकारी ने कहा है कि कोरोना वायरस से संक्रमित व्यक्ति को 14 दिन के आइसोलेशन की ज़रूरत होती है। उन्होंने बताया कि सभी मकान मालिकों से कहा गया है कि वह कोरोना महामारी के दौर में अपने किरायेदारों पर किराए के लिए दबाव न बनाएं।
अधिकारियों ने बताया कि सरकारी और निजी प्रयोगशालाओं में करीब साढ़े चार सौ टेस्ट रोजाना किये जा रहे हैं। चिकत्सीय सेवाओं को एलर्ट पर रखा गया है। उन्होंने बताया कि 47 निजी प्रयोगशालाओं को टेस्ट की अनुमति दी गई है।

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button